--Advertisement--

पुलिसकर्मियों ने

पुलिसकर्मियों ने

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 04:31 PM IST

पटना. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के माध्यमिक व उच्च माध्यमिक दोनों प्रभागों के कर्मचारियों ने शनिवार को कार्य बहिष्कार किया। कर्मचारी कार्यालय आए, लेकिन कोई काम नहीं किया। शुक्रवार को बिहार बोर्ड के तीन कर्मचारियों को एमटीएस अभ्यर्थियों से ठगी के झूठे आरोप में पुलिस ने हिरासत लिया था। हालांकि देर शाम उन्हें छोड़ दिया गया।

हिरासत में लिए गए कर्मचारियों के समर्थन में बाकी कर्मचारियों ने कार्य का बहिष्कार किया। पहले मैट्रिक बोर्ड के कर्मियों ने कामकाज ठप किया इसके बाद इंटर काउंसिल के कर्मचारी भी उनके समर्थन में आ गए। दोनों जगहों पर कामकाज पूरी तरह ठप रहा। कार्य बहिष्कार के कारण दूर दराज से आए छात्रों को बिना काम के ही वापस लौटना पड़ा। छात्रों और अभिभावकों में भी इसे लेकर आक्रोश था।

अध्यक्ष से माफी की मांग
कर्मचारियों का कहना है कि इस मामले में बेवजह फंसाया गया। ठगी में बोर्ड के कर्मचारी शामिल नहीं हैं, फिर भी बिना जांच के कर्मचारियों को दिनभर हिरासत में रखा गया। इस पूरे मामले में वे अध्यक्ष से माफी की मांग कर रहे हैं। शनिवार को कर्मचारी अध्यक्ष व सचिव के चैंबर के बाहर जमा हो गए और हंगामा भी किया। कर्मचारियों ने कहा कि इस वजह से उनकी छवि खराब हुई है।