Hindi News »Bihar »Patna» Worst Condition Of Bihar Government Hospital Show Again

पूर्व जदयू

पूर्व जदयू

Vivek Kumar | Last Modified - Dec 08, 2017, 10:07 AM IST

सहरसा.बिहार के सरकारी हॉस्पिटल में मरीजों के साथ कैसा व्यवहार किया जाता है इसकी एक बानगी गुरुवार को सहरसा के सदर अस्पताल में देखने को मिली। एक बेहोश व्यक्ति को तीन लोग टांगकर इमरजेंसी वार्ड में ले जा रहे थे। दो लोगों ने वृद्ध के हाथ पकड़ रखे थे और एक पैर उठाए चल रहा था। तीन घंटे तक बेहोश पड़ा रहा वृद्ध...

- बताया जा रहा है कि बुजुर्ग हॉस्पिटल में दवा लेने आए थे। इसी दौरान वे बेहोश हो गए। हॉस्पिटल के अंदर वह तीन घंटे तक जमीन पर बेहोश पड़े रहे, लेकिन किसी अस्पतालकर्मी ने उनकी सुध न ली।
- लोगों ने अस्पतालकर्मी को सूचना भी दी, लेकिन उन्हें उठा कर बेड तक ले जाने की जहमत किसी अस्पतालकर्मी ने नहीं उठाई।
- कुछ लोगों को इन पर दया आई और इन्हें सदर अस्पताल के बिस्तर तक ले गए। अस्पताल कर्मियों ने बेहोश व्यक्ति को बेड तक ले जाने के लिए स्ट्रेचर तक नहीं दिया।
- उनलोगों ने अस्पताल के इमरजेंसी में तैनात डॉ. एन के सादा से इलाज की गुहार लगाई तब जाकर वृद्ध का इलाज शुरू हुआ।

- बुजुर्ग को टांग कर बेड तक ले जाने वाले महपुरा गांव के भोला यादव ने कहा कि सदर अस्पताल में कोई किसी को देखनेवाला नहीं है। सदर अस्पताल की व्यवस्था खराब है। मैं निजी क्लीनिक का बोझ नहीं उठा सकता इसलिए मजबूरी में सदर अस्पताल आया हूं।
- ड्यूटी पर तैनात डा. एन के सादा ने स्वीकार किया कि कुछ लोगों ने इस मरीज को बेहोशी की हालत में इमरजेंसी में लाकर छोड़ गया। इसका इलाज शुरू कर दिया गया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: strechr n milaa to mrij ko aise le gae loga, teen Ghante se pdeaa thaa behosh
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×