Hindi News »Bihar »Patna» Year 2017 For The Liberation Of Muslim Women

बाइट

बाइट

Vivek Kumar | Last Modified - Dec 31, 2017, 11:19 AM IST

पटना.उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा बैन लगाने, लोकसभा से बिल पास होने और अकेली मुस्लिम महिला को हज यात्रा की अनुमति देने की वजह से गुजरा साल 2017 देश की मुस्लिम महिलाओं के लिए मुक्ति का वर्ष रहा। मोदी ने अपील की कि सभी धर्मों की महिलाएं अपने-अपने धर्मों की कुरीतियों को तोड़ने के लिए आगे आएं तथा राजनीतिक दल एकमत होकर राज्यसभा में तीन तलाक के खिलाफ बिल को पारित करें।

मोदी रविवार को भाजपा के प्रदेश कार्यालय में प्रधानमंत्री के 'मन की बात' कार्यक्रम का रेडियो पर प्रसारण सुनने के बाद पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अभी तक कोई मुस्लिम महिला किसी पुरुष के साथ ही हज यात्रा पर जा सकती थी मगर भारत सरकार की पहल पर 1300 मुस्लिम महिलाओं को अकेली हज यात्रा की अनुमति मिली है इनमें बड़ी संख्या में बिहार सहित अन्य प्रदेशों की महिलाएं हैं। अकेली हज यात्रा के लिए आवेदन देने वाली मुस्लिम महिलाओं को लॉटरी की व्यवस्था से भी छूट दी गई है।

मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने मन की बात कार्यक्रम में पहली बार मतदाता बने युवाओं पर जोर दिया। इक्कीसवीं सदी के पहले वर्ष 2000 में जन्म लेने वाले युवक और युवतियां 2018 में भारत के नए मतदाता होंगे। उन्होंने ऐसे सभी बालिग हुए युवा और युवतियों से अपील की कि वे मतदाता सूची में अपना नाम शामिल कराने की अपील भी की है। भाजपा युवा मतदाताओं का जगह-जगह सम्मेलन आयोजित कर 2022 में पूरा किए जाने वालों संकल्पों और कैसा हो उनके सपनों का भारत पर उनका सकारात्मक विचार जानेगी।


उन्होंने कहा कि स्वच्छता के स्तर की उपलब्धियों के आकलन के लिए आगामी 4 जनवरी से 10 मार्च के बीच होने वाले 'स्वच्छ सर्वेक्षण 2018' में बिहार के शहरों की भी हिस्सेदारी होगी और उम्मीद है कि पहले की तुलना में नगर निकायों का बेहतर प्रदर्शन होगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×