--Advertisement--

दिलीप का

दिलीप का

Danik Bhaskar | Nov 28, 2017, 05:19 PM IST

पटना. शौचालय घोटाले में एसआईटी ने मास्टरमाइंड पीएचईडी के तत्कालीन कार्यपालक अभियंता विनय कुमार सिन्हा और एनजीओ आदि शक्ति सेवा संस्थान के कोषाध्यक्ष उदय सिंह को गिरफ्तार कर लिया। जल परिषद गंगा परियोजना के निलंबित अधीक्षण अभियंता विनय को पुलिस ने यूपी के देवरिया में सोमवार की रात उस वक्त दबोचा जब वह एक होटल से खाना पैक करा अपने होटल (जहां ठहरे थे) जा रहे थे।

विनय के पास से पुलिस ने 1.56 लाख रुपए बरामद किया है। वहीं उदय की गिरफ्तारी पटना में गांधी मैदान के पास से हुई। विनय को एसआईटी पटना ले आई और घंटों पूछताछ की। उदय से भी पूछताछ हुई। बाद में दोनों को निगरानी कोर्ट में पेश किया गया जहां से उन्हें 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में बेउर जेल भेज दिया गया। 2 नवंबर को प्राथमिकी के 25 दिन बाद दोनों की गिरफ्तारी हुई है। एसएसपी मनु महाराज बोले-दोनों को रिमांड पर लेकर पूछताछ होगी।