पटना

--Advertisement--

पटवन

पटवन

Dainik Bhaskar

Nov 26, 2017, 12:03 PM IST
nitish joining the liquor ban campaign

पटना. सीएम नीतीश कुमार ने नशा मुक्ति दिवस समारोह में रविवार को कहा कि किस क्षेत्र में कौन शराब का अवैध कारोबार कर रहा है। यह पुलिस को पता होता है। डीजीपी साहब ऐसे लोगों पर नजर रखिए। इन पर कार्रवाई भी होनी चाहिए। चौकीदारों को भी पता होता है कि कहां पर शराब बन रहा है। उनको भी बताना चाहिए। वह भी सिस्टम का हिस्सा है। बिहार में शराब पीने के लिए लोग नहीं आते...

- सीएम ने कहा कि समाज सुधार की बात करने पर लोग मजाक बनाते हैं। ऐसे लोगों को मजाक बनाने दिजिए।
- शराबबंदी के बाद लोग कहने लगे थे कि बिहार में अब कोई नहीं आएगा। क्या बोधगया, गया और राजगीर जाने वाले पर्यटक शराब पीते के लिए आते हैं।

- गया में पिंडदान करने लाखों लोग आए, क्या वह शराब के लिए आए थे। राजगीर में लोग गर्मकुंड में नहाने और घूमने आते हैं। शराबबंदी के बाद भी आने वाले पर्यटकों की संख्या कम नहीं हुई है।

- ऐसा नहीं है कि होटलों में बाहर के लोग आकर नहीं रुक रहे हैं। बस लोगों को अपने आप पर कंट्रोल करने की जरूरत है।
- शराब बंदी अभियान में लापरवाही करने वाले कई अधिकारियों पर कार्रवाई हुई है। कई को सेवा से बर्खास्त,दस साल तक थाना से वंचित और कई को जेल भेजा गया है।

- फिर भी इसके बाद भी उपर से लेकर नीचे तक तक लोग शामिल हैं। यह तो डीजीपी ही बताएंगे। हमलोगों को पता चलता है तो कार्रवाई हो ही जाती है।

X
nitish joining the liquor ban campaign
Click to listen..