--Advertisement--

अलावे उनके

Dainik Bhaskar

Nov 17, 2017, 09:55 AM IST

अलावे उनके

यह हाल मोतीपुर   प्रखंड स्थित र यह हाल मोतीपुर प्रखंड स्थित र

मुजफ्फरपुर. बिहार के मुजफ्फरपुर में एक ऐसा ओपन स्कूल है। जहां के स्टूडेंट्स गाय और भैंस के साथ पढ़ाई करते हैं। यह हाल मोतीपुर प्रखंड स्थित राजकीय प्राथमिक विद्यालय माधोपुर का। ब्रह्मस्थान परिसर में बरगद के पेड़ के नीचे चल रहे इस स्कूल में 5वीं तक की पढ़ाई होती है। स्कूल में 200 छात्र-छात्राओं का नामांकन है। पेड़ के नीच बैठते हैं स्टूडेंट्स...

- बच्चे धूप, आंधी-बारिश या ठंड में भी इसी पेड़ के नीचे पढ़ने की मजबूरी। बच्चों के बैठने की जगह पर ही भैंस का तबेला है।
- गायों के साथ बैल भी बंधे होते हैं। मवेशियों के गोबर और मूत्र के साथ मच्छर का साम्राज्य रहता है।
- बगल में भुसौल (गेहूं धान आदि का भूसा रखने के लिए बनाया ढांचा) लेकिन, इसकी परवाह तो प्रखंड के प्रशासनिक-शैक्षिक अधिकारियों को है और ही जिला शिक्षा महकमे को। विद्यालय में दो शिक्षक हैं। गांव के लोग कई डीपीओ से गुहार लगा चुके हैं।

नहीं बना स्कूल का भवन
- स्कूल की स्थापना 2006 में हुई थी। आसपास की बहुसंख्यक आबादी आर्थिक सामाजिक रूप से पिछड़े वर्ग की है।
- शिक्षा के जरिए इस वर्ग के उत्थान का संकल्प लिया गया था। जिस जमीन पर स्कूल चल रहा है, वह सरकारी है। यानी भवन निर्माण के लिए जमीन का संकट भी नहीं है।

- फिर भी 11 साल में भवन नहीं बना। ऐसे में यह अनुमान भी सहज लगाया जा सकता है कि मध्याह्न भोजन (एमडीएम) की गुणवत्ता और स्वच्छता को लेकर सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर कैसे-कितना अमल होता होगा।

- डीईओ ललन प्रसाद ने कहा कि स्कूल की देखरेख के लिए शिक्षा समिति बनाई गई है। अब तक शिक्षा समिति की ओर से विद्यालय से संबंधित कोई सूचना नहीं दी गई है। अगर समिति रिपोर्ट करती है, तो मामले की जांच करा कर उचित कार्रवाई की जाएगी।

फोटो: तुषार राय

X
यह हाल मोतीपुर   प्रखंड स्थित रयह हाल मोतीपुर प्रखंड स्थित र
Astrology

Recommended

Click to listen..