Hindi News »Bihar »Patna» Unrestrained Things Like Mad To Lalu

इस दौरान

इस दौरान

Vivek Kumar | Last Modified - Nov 06, 2017, 11:19 AM IST

पटना. सीएम नीतीश ने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद को भ्रष्टाचार का पुरोधा बताते हुए कहा कि वे अपने तो गए थे, अपने बच्चों को भी नहीं छोड़ा। अब कार्रवाई शुरु हो गई है तो विक्षिप्त की तरह व्यवहार कर अपने बयानों से राजनीति के स्तर को गिरा रहे हैं। सीएम सोमवार को लोक संवाद कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से बातें कर रहे थे। कभी मैंने आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की...
सीएम ने कहा कि मैंने अपने 43 वर्षों के राजनैतिक जीवन में कभी कोई घटिया बातचीत नहीं की है। कभी किसी पर आपत्तिजनक टिप्पणी नहीं की है। मैं उतने घटिया स्तर पर अपने आपको नहीं ले जा सकता, वो मेरा स्तर नहीं है। मैंने जदयू के अपने प्रवक्ताओं को भी कह दिया है कि मुझसे से संबंधित जो कोई भी घटिया किस्म की बात करे तो वे उसका जवाब ना दिया करें। गाली-गलौज को महत्व देने की जरूरत नहीं है, जिनको जो बोलना है बोलते रहें। जो निम्नस्तरीय बात कर रहे हैं वे सत्ता से वंचित होने की वजह से परेशान लोग हैं।
सीएम ने लालू पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस समय शराबबंदी का फैसला लिया गया तो उन्होंने स्वागत किया था। मानव श्रृंखला में मुझसे हाथ मिला खड़े हुए थे। लेकिन सत्ता से बाहर होते ही वे शराबबंदी को गलत ठहराने लगे। ऐसे ही जो बालू के गैरकानूनी तरीके से लिप्त थे वो तो चिल्ला रहे हैं। लेकिन पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए बालू के बिक्री के लिए कॉरपोरेशन बना है, उसके लिए होलसेल बिक्री की व्यवस्था की गई है।
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×