विवाद / तेज प्रताप के ससुर ने राबड़ी के खिलाफ केस किया; कहा- हमने मोबाइल और पासपोर्ट मांगे थे, कचरा नहीं

तेज प्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की शादी मई 2018 में हुई थी। छह महीने बाद ही तेज प्रताप ने कोर्ट में तलाक की अर्जी दाखिल कर दी।- फाइल फोटो तेज प्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की शादी मई 2018 में हुई थी। छह महीने बाद ही तेज प्रताप ने कोर्ट में तलाक की अर्जी दाखिल कर दी।- फाइल फोटो
X
तेज प्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की शादी मई 2018 में हुई थी। छह महीने बाद ही तेज प्रताप ने कोर्ट में तलाक की अर्जी दाखिल कर दी।- फाइल फोटोतेज प्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की शादी मई 2018 में हुई थी। छह महीने बाद ही तेज प्रताप ने कोर्ट में तलाक की अर्जी दाखिल कर दी।- फाइल फोटो

  • राबड़ी देवी के घर से गुरुवार को दो पिकअप वैन में ऐश्वर्या का सामान उनके पिता के घर भेजा था
  • ऐश्वर्या के पिता चंद्रिका राय ने कहा- वैन में संदिग्ध वस्तु हो सकती है, ऐसे सामान नहीं ले सकता
  • लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप और उनकी पत्नी ऐश्वर्या राय के बीच तलाक का केस चल रहा है

दैनिक भास्कर

Dec 27, 2019, 01:43 PM IST

पटना. राजद प्रमुख लालू प्रसाद के बेटे तेजप्रताप यादव और बहू ऐश्वर्या के बीच चल रहा विवाद पुलिस तक पहुंच गया है। शुक्रवार को ऐश्वर्या के पिता चंद्रिका राय पटना के शास्त्रीनगर थाने पर पहुंचे। राय ने राबड़ी देवी और उनके सुरक्षा अधिकारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। केस दर्ज कराने के बाद चंद्रिका ने कहा कि हमने प्रोटेक्शन ऑफिसर को बताया कि राबड़ी आवास में ऐश्वर्या का मोबाइल, पासपोर्ट और डॉक्यूमेंट्स हैं। इन डॉक्यूमेंट्स को हमें वापस दिलाया जाए।


चंद्रिका राय ने कहा- राबड़ी देवी ने जो सामान भेजा उसमें कोई जरूरी सामान नहीं था, बस कचरा भेज दिया गया। उन्होंने कहा कि सामान भेजने से पहले हमें सूचना भी नहीं दी गई। राबड़ी के सुरक्षाकर्मी आकर जबरदस्ती सामान अनलोड करने लगे। राय ने आरोप लगाया कि इस सामान में कोई भी संदिग्ध चीज हो सकती है, जिसके आरोप में हम पर कानूनी कार्रवाई हो सकती है। मैं ऐसे अनाधिकृत सामान नहीं ले सकता। कोई भी मजिस्ट्रेट आते, वे सामान की लिस्ट लेकर आते तो हम रिसीव कर सकते थे।

चंद्रिका राय के घर सामान भेजने पर हंगामा हुआ था

इससे पहले गुरुवार शाम राबड़ी आवास से ऐश्वर्या का सामान उनके पिता चंद्रिका राय के आवास भेजा गया था। राबड़ी आवास के सुरक्षा गार्ड दो पिकअप वैन में सामान लेकर राय के आवास पहुंचे। उनका कहना था कि ऐश्वर्या शादी के समय जो सामान लेकर ससुराल गई थी, वह सारा सामान लालू परिवार ने वापस कर दिया है। हालांकि चंद्रिका राय ने सुरक्षा गार्डों से सामान नहीं लिया था। देर रात तक वैन वहीं खड़ी रही। वहां पुलिस तैनात कर दी गई। दोनों पिकअप वैन अभी तक चंद्रिका राय के घर के बाहर ही खड़ी हैं। 

सस्ती लोकप्रियता के लिए परिवार को बदनाम कर रहे चंद्रिका: मीसा
लालू की बेटी और सांसद मीसा भारती ने कहा कि पॉलिटिकल फायदे और सस्ती लोकप्रियता के लिए चंद्रिका राय का परिवार, लालू परिवार को बदनाम कर रहा है। उन्होंने ऐश्वर्या की मां पूर्णिमा राय द्वारा महिला हेल्पलाइन को 16 दिसंबर को लिखे पत्र का हवाला देते हुए कहा- दो कमरों में ऐश्वर्या के सामान का जिक्र कर महिला हेल्पलाइन के प्रोटेक्शन ऑफिसर ने उसे लौटाने का आग्रह किया गया था। मीसा ने कहा- पहले वो सामान मांगते हैं और भिजवाने पर लेबरों को मारपीट कर सामान लेने से इनकार कर देते हैं। 

वीडियोग्राफी करवाकर तोड़ा गया ताला: मीसा
मीसा ने बताया कि महिला हेल्पलाइन से जानकारी मिलने के बाद ऐश्वर्या के कमरों का ताला तोड़कर उनका सामान निकाला गया। इसकी वीडियोग्राफी भी करवाई गई। उन्होंने कहा- ऐश्वर्या देखकर बताएं कि उनका कौन सा समान नहीं है? वो घटिया आरोप लगा रहे कि गाड़ी में विस्फोटक सामान हो सकता है। 10 सर्कुलर रोड में मां राबड़ी के अलावा दूसरा मेंबर नहीं हैं। मीसा ने पूछा- क्या राबड़ी देवी सामान लेकर वहां जातीं? सुरक्षा गार्ड आदमी नहीं है क्या? वो बार-बार रात के समय का जिक्र कर रहे हैं। क्या उन्होंने सामान लौटाने का कोई समय तय किया था?

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना