• Home
  • Bihar
  • Patna
  • Patna - नौकरी के नाम पर ठगी, भाई-बहन समेत 5 धराए
--Advertisement--

नौकरी के नाम पर ठगी, भाई-बहन समेत 5 धराए

प्रधानमंत्री रोजगार योजना के नाम पर बेरोजगार युवकों से ठगी करने वाले भाई-बहन को पटना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 04:50 AM IST
प्रधानमंत्री रोजगार योजना के नाम पर बेरोजगार युवकों से ठगी करने वाले भाई-बहन को पटना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। समस्तीपुर के विक्रमपुर के मो. फैयाज और उसकी बहन को पुलिस ने सबसे पहले गिरफ्तार किया। दोनों की निशानदेही पर पुलिस ने नालंदा के सूरज, समस्तीपुर के नासीर और बख्तियारपुर के राहुल को गिरफ्तार किया है। इन शातिरों के पास से सात मोबाइल, 12500 रुपए नगद और एक बाइक बरामद की है। भाई-बहन ने पटना के एक दर्जन से अधिक बेरोजगार युवकों से लाखों की ठगी की है। दोनों ने पुलिस को बताया कि वे तीन महीने से ठगी का धंधा कर रहे हैं। पुलिस सभी से पूछताछ कर रही है। एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि कई और लोग गिरफ्तार होंगे। आनन-फानन में करोड़ों की कमाई करने का आइडिया फैयाज के दिमाग में आया। इसके बाद उसने इस फर्जीवाड़े में अपनी बहन को भी शामिल कर लिया। दोनों भाई-बहन ने प्रधानमंत्री रोजगार योजना के तहत बहाली का पर्चा कई शहरों में चिपकवा दिया था। पर्चे पर सुपरवाइजर, इलेक्ट्रिशियन, प्लंबर, कंप्यूटर ऑपरेटर जैसे पदों पर बहाली होने का जिक्र होता था और उस पर फोन नंबर दिया होता था। नौकरी की तलाश कर रहा युवक जब फोन करते थे तो उससे फैयाज की बहन बात करती थी। वह पूछताछ में युवक को झांसे में ले लेती थी और उससे ठगी करती थी। पैसे देने वाले युवकों को जब नौकरी नहीं मिली और भाई-बहन का नंबर भी बंद आने लगा तब उन्होंने पुलिस से शिकायत की।

पैसा लेने के बाद ब्लॉक कर देते थे मोबाइल नंबर

फैयाज की बहन अभ्यर्थी को फाॅर्म भरने के लिए कहती थी। फोन कर कई सवाल करती थी। जब युवक झांसे में आ जाता था तब उससे सिक्योरिटी मनी के रूप में 2 हजार से लेकर 10 हजार तक की डिमांड की जाती थी। एकबार जो युवक पैसे डाल देता था उसका नंबर भाई-बहन ब्लॉक कर देते थे।