--Advertisement--

बच्चे की सांप डसने से हो गई मौत, तो परिजनों ने पड़ोसी महिला को नंगा कर पोल से बांध पीटा, बोले- इसी डायन ने भेजा था सांप

बर्री का मामला: हथियारों से लैस बच्चे के घर वालों ने महिला से कहा- जिंदा कर डायन

Danik Bhaskar | Jul 11, 2018, 11:21 AM IST
बच्चों के साथ पीड़ित महिला। बच्चों के साथ पीड़ित महिला।

बेनीपट्टी (मधुबनी). बिहार के मधुबनी जिले के बेनीपट्टी के बर्री पंचायत के रजघट्टा गांव में मो. शकील नदाफ के 10 वर्षीय पुत्र की मौत सांप काटने से हो गई। परिजनों को लगा कि यह डायन की करतूत है। परिजनों ने बर्री पंचायत के मुखिया मो. आलम अंसारी के इशारे व बहकावे में आकर पड़ोसी एक महिला को घर से खींचकर गांव के मुख्य चौराहे पर लाए और नंगा कर बिजली के पोल से बांधकर बुरी तरह से मारपीट कर घायल कर दिया। इसकी सूचना मिलते ही बेनीपट्टी की पुलिस घटना स्थल पर पहुंची। पुलिस को देख सभी आरोपी मौके वारदात पर से फरार हो गए।

झाड़-फूंक के दौरान हुई थी मौत, पड़ोसी महिला पर लगाए इल्जाम: गांव के मो. शकील नदाफ के 10 वर्षीय पुत्र की मौत आठ जुलाई की रात सांप काटने से झाड़-फूंक के दौरान हो गई। इसके बाद नौ जुलाई को उसके परिजन ने पड़ोसी के घर के साथ गाली-गलौज करने लगे और कहने लगे कि यह महिला डायन है और इसी ने मौत की नींद सुला दी है। सभी पीड़िता से लड़के को जिंदा करने के लिए कहने लगे।

बर्री के मुखिया मो.आलम पर लोगों को बहकाने का आरोप: बर्री पंचायत के मुखिया मो. आलम अंसारी, मो. इस्लाम, मो. शकील, मो. बदरून, मो. मुस्लिम, मो. फिदुल नदाफ, जुलेखा खातून, शैरू निशा, जैनब खातून, अजमेरी खातून, नूरजहां खातून, मैमून खातून, मो. हासिम नदाफ, गुलशन खातून वन व गुलशन खातून पर प्राथमिकी दर्ज की है। महिला ने बताया कि मुखिया ने लोगों को बहकाया है।

घर में घुसकर की तोड़फोड़ सड़क पर फेंका सामान: हथियार से लैस दर्जन भर लोगों ने जबरन घर में घुसकर तोड़फोड़ शुरू कर दिया व सामानों को घर से बाहर सड़क पर फेंक दिया। आरोपियों ने उसके लड़के को जिंदा करने अन्यथा नंगा कर मैला पिलाने व जान से मारने की धमकी दी। पीड़िता व उनके बच्चों के साथ मारपीट की। पीड़ता को नंगा कर पोल से बांध दिया।

गिरफ्तारी का दिया गया निर्देश : डीएसपी पुष्कर कुमार ने बताया कि बेनीपट्टी थानाध्यक्ष को मामले के आरोपियों की गिरफ्तारी कर जेल भेजने के निर्देश दिया गया है। अंधविश्वास में घटित की गई यह घटना काफी हृदय विदारक है और इसमें संलिप्त एक भी आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। पीड़ित महिला को न्याय दिलाने के लिए सभी आरोपियों पर कार्रवाई की जाएगी।