--Advertisement--

गुड न्यूज / राजगीर में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम और खेल अकादमी का निर्माण शुरू, 2 साल में बन जाएगा



राजगीर में स्टेडियम का मॉडल देखते सीएम। साथ में हैं डिप्टी सीएम। राजगीर में स्टेडियम का मॉडल देखते सीएम। साथ में हैं डिप्टी सीएम।
X
राजगीर में स्टेडियम का मॉडल देखते सीएम। साथ में हैं डिप्टी सीएम।राजगीर में स्टेडियम का मॉडल देखते सीएम। साथ में हैं डिप्टी सीएम।

  • 9 एकड़ में बनेगा, 633 करोड़ रुपए होंगे खर्च, सीएम ने किया शिलान्यास
  • 5 स्टार होटल बनवाने वाले को देंगे कन्वेंशन सेंटर के पास पांच एकड़ जमीन

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 04:28 AM IST

राजगीर/पटना.  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजगीर में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम व राज्य खेल अकादमी के निर्माण का काम शुक्रवार को शुरू कराया। यह 90 एकड़ में 633 करोड़ रुपए से बनेगा। मुख्यमंत्री ने कहा-बीसीसीआई की राय से स्टेडियम बनाया जा रहा है। बीसीसीआई को यहां अंतरराष्ट्रीय मैच कराना है। कल्पना कीजिए कि जब अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय, जू सफारी पार्क, ग्रीन सफारी, इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम, स्पोर्ट्स अकादमी सहित सभी योजनाएं पूरी हो जाएंगी, तब राजगीर का स्वरूप क्या होगा?

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार के बच्चे दूसरे प्रदेशों में जाकर खेलते हैं। उनको अपने ही घर में प्रशिक्षण और खेलने का मौका मिले, इसलिए यह निर्माण हो रहा है। इंडोर स्टेडियम में सभी प्रकार के खेल की सुविधा होगी। बाहर फुटबॉल और हॉकी भी खेला जा सकेगा। ऐसा इंतजाम हो रहा है कि बिहटा, पटना और गया एयरपोर्ट से राजगीर पहुंचने में 50 मिनट से 1 घंटे लगे। उन्होंने भवन निर्माण विभाग के प्रधान सचिव और कला संस्कृति विभाग के सचिव से कहा कि अकादमी व स्टेडियम 2 साल में बन जाए। वहीं, विधानसभा अध्यक्ष विजय चौधरी ने कहा कि पहले लोग स्वस्थ रहने के लिए खेलते थे, आज इसमें कॅरियर बना रहे हैं। 

 

मुख्यमंत्री ने राजगीर के ऐतिहासिक, पौराणिक, धार्मिक और पुरातात्विक महत्व बताए : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राजगीर के अंतरराष्ट्रीय कन्वेंशन सेंटर के पास 5 एकड़ जमीन है। कोई फाइव स्टार होटल बनाना चाहे, तो उसे यह जमीन दी जाएगी। उन्होंने कहा-हम नालंदा विश्वविद्यालय को रिवाइव कर रहे हैं। यह दुनिया में अद्वितीय होगा। किसी भी विवि से इसकी तुलना नहीं की जा सकेगी। यहीं कनफ्लिक्ट रिजोल्यूशन सेंटर होगा, जो दुनिया भर के विवादित मसलों के निपटारे से ताल्लुक रखेगा।


उन्होंने राजगीर के ऐतिहासिक, पौराणिक, धार्मिक व पुरातात्विक महत्व की व्यापक चर्चा की। पांडवों के पिता पांडु से लेकर महात्मा बुद्ध के आगमन तक। वेणु वन, घोड़ा कटोरा को और विकसित करने की बात कही। बोले-गृद्धकूट पर्वत पर भगवान बुद्ध की ऊंची प्रतिमा तैयार है। यह पूरा इलाका इको टूरिज्म का होगा। नालंदा विवि यहीं है और जरासंध का अखाड़ा भी। इस धरती पर भगवान महावीर, मकदूम जहां साहब और गुरुनानक देव आकर रहे। गुरुनानक के मंदिर निर्माण की अनुमति का प्रयास कर रहा हूं। जू सफारी बनेगा। बंद गाड़ी में बैठकर लोग शेर व बाघ को करीब से देखेंगे। जू सफारी के आगे का इलाका ग्रीन सफारी होगा।

 

मुख्यमंत्री ने कहा-हर जिले में काम हो रहा है। लखीसराय में लाल पहाड़ी की खुदाई हो रही है। जहां भी ऐतिहासिक या पुरातात्विक भूमि लगती है, उसे विकसित करने की कोशिश करता हूं।   भवन निर्माण विभाग के प्रधान सचिव चंचल कुमार ने सीएम का अभिनंदन किया। उनके अलावा पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव रवि मनु भाई परमार ने भी समारोह को संबोधित किया। 


 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..