पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बिहार के शहरी इलाके 31 मार्च तक लॉकडाउन, लोगों को जरूरी काम से निकलने की इजाजत

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रधानमंत्री मोदी की अपील पर लोगों ने शाम में थाली बजाई।
  • जिला मुख्यालय, अनुमंडल मुख्यालय और ब्लॉक मुख्यालय को लॉकडाउन करने का ऐलान
  • लॉकडाउन की स्थिति में उस क्षेत्र के लोगों को घर से निकलने की अनुमति नहीं होती है

पटना. रविवार को कोरोनावायरस से हुई पहली मौत के बाद बिहार सरकार ने शहरी इलाकों को 31 मार्च तक लॉकडाउन करने का फैसला किया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ करीब तीन घंटे तक बैठक की और इसके बाद जिला मुख्यालय, अनुमंडल मुख्यालय और ब्लॉक मुख्यालय को लॉकडाउन करने का ऐलान किया गया। ग्रामीण क्षेत्रों को इससे अलग रखा गया है। सभी निजी प्रतिष्ठानों, निजी कार्यालयों एवं सार्वजनिक परिवहन को बंद रखने का फैसला लिया गया है। बैठक के बाद यह जानकारी दी गई परिस्थितियों को देखते हुए 31 मार्च को फिर फैसला लिया जाएगा।


बैठक के बाद बिहारवासियों के नाम संदेश जारी करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस से पूरी मानव जाति संकट में है। हम सब इस महामारी का डट कर मुकाबला कर रहे हैं। आवश्यक सावधनियां भी बरती जा रही हैं लेकिन इस बीमारी की गंभीरता को देखते हुये प्रत्येक व्यक्ति का सचेत रहना आवश्यक है। इसका सबसे अच्छा उपाय सोशल डिस्टेंसिंग है।


नीतीश ने कहा कि लॉक डाउन में आवश्यक व अनिवार्य सेवाओं से संबंधित प्रतिष्ठानों-चिकित्सा सेवाओं, खाद्यान्न व किराने के प्रतिष्ठान, दवा की दुकानों, डेयरी- डेयरी से संबंधित प्रतिष्ठान, पेट्रोल पंप और सीएनजी स्टेशन, बैंकिंग, एटीएम, पोस्ट ऑफिस के अलावा प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया आदि सेवाओं और इन सेवाओं के लिये उपयोग किये जा रहे वाहनों को इस आदेश की परिधि से बाहर रखा गया है।


नीतीश कुमार ने बिहार के तमाम लोगों से अपील की कि कोरोना संक्रमण के खिलाफ राज्य सरकार द्वारा चलायी जा रही इस मुहिम में वे अपना पूरा सहयोग दें। जब भी संकट का समय आया है तो हमने सभी लोगों के सहयोग से उस पर विजय पायी है। संकट की इस घड़ी में सरकार सभी लोगों के साथ है। मुझे पूरा विश्वास है कि हम सब साथ मिलकर इस चुनौती का सफलतापूर्वक सामना करने में सक्षम होंगे। मैं सब लोगों से यही अपील करूंगा कि आप सब लोग अपने घर के अंदर रहें, इधर-उधर अनावश्यक आने-जाने की जरूरत नहीं है। इन सब चीजों से संबंधित सारे मामलों की जानकारी दी जा रही है।

क्या है लॉकडाउन?
लॉकडाउन एक इमरजेंसी व्यवस्था है जो किसी आपदा के वक्त सरकार द्वारा लागू किया जाता है। लॉकडाउन की स्थिति में उस क्षेत्र के लोगों को घर से निकलने की अनुमति नहीं होती है। लोगों को सिर्फ दवा, अनाज जैसी जरूरी चीजों या बैंक से पैसा निकालने की इजाजत दी जाती है। गैदरिंग की इजाजत नहीं होती है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें