कथनी-करनी में भेद करना जीवन में दुख का कारण

Patna News - मीठापुर कबीरपंथी अाश्रम में सद्गुरु कबीर साहेब की 621वीं जयंती पर गुरुवार काे बीजक पाठ के साथ त्रिदिवसीय महाेत्सव...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:40 AM IST
Patna News - distinguishing kathani karni cause of sadness in life
मीठापुर कबीरपंथी अाश्रम में सद्गुरु कबीर साहेब की 621वीं जयंती पर गुरुवार काे बीजक पाठ के साथ त्रिदिवसीय महाेत्सव की शुरुअात हुर्इ। बीजक पाठ की शुरुअात अाश्रम के महंथ ब्रजेश मुनि, कबीर चाैरा मठ काशी के संत अशाेक दास हंस, संत निर्मल दास, संत विवेक दास, संत शिवमुनि शास्त्री, संत अवधेश दास अादि ने किया। इससे पहले महाेत्सव का उद्घाटन राघाेपुर के पूर्व विधायक सतीश कुमार ने ज्याेति जलाकर किया।

इसके बाद सत्संग में महंथ ब्रजेश मुनि ने कहा कि वर्तमान परिवेश में हिंसा, व्याभिचार अादि बढ़ता जा रहा है। इसकी बड़ी वजह कथनी-करनी में भेद व कुसंग है। कथनी-करनी में भेद के कारण ही जीवन में विषमता, तनाव व दुख पैदा हाेता है। सद्गुरु कबीर साहेब अपनी साखी वाणी में सभी दुखाें की दवा के रूप में अच्छे अाचरण की शिक्षा दे गए हैं। उन्हाेंने कहा कि अाहार की शुद्धि के लिए विशेष रूप से मांस व नशा से बचना चाहिए। कबीर मत के अनुसार हिंसा दाेष हाेने से मांस खाना सर्वथा असभ्यता है। कबीर साहेब ने अहिंसा पर बहुत बल दिया है। उनकी वाणी के अनुसार किसी की हत्या करना हिंसा ताे है ही, पर किसी का अहित साेंचना, किसी के लिए अहितकर वाणी कहना अाैर किसी काे शरीर से पीड़ा देना भी हिंसा के ही रूप है। जब तक काेर्इ व्यक्ति दूसरे काे दुख देना बंद नहीं करता, तब तक वह स्वयं दुखरहित कैसे हाे सकता है। इस दाैरान कबीरपंथी साधु-संन्यासियाें ने कबीर भजनाें की प्रस्तुति से माहाैल काे भक्तिमय बनाए रखा। देर रात तक अाश्रम में श्रद्धालुअाें का जमावड़ा लगा रहा। इस दाैरान कबीर के साथ सांई बाबा की भी भक्ताें ने पूजा की। कार्यक्रम में भारत साधु समाज के महामंत्री स्वामी केशवानंद भी पहुंचे।

गुरुवार को कबीरपंथी अाश्रम मीठापुर में सद्गुरु कबीर साहेब की 621वीं जयंती पर त्रिदिवसीय महाेत्सव के पहले दिन कई संत-महात्मा पहुंचे। दूर-दूर से आए श्रद्धालुओं ने माहौल को भक्तिमय बना दिया।

Patna News - distinguishing kathani karni cause of sadness in life
X
Patna News - distinguishing kathani karni cause of sadness in life
Patna News - distinguishing kathani karni cause of sadness in life
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना