सीतामढ़ी / दहेज की आग में झुलसी विवाहिता पटना से एंबुलेंस में कोर्ट लाई गई, स्ट्रेचर पर लेटे हुए दी गवाही

रूबी के भाई ने ट्विटर पर मांगा था इंसाफ। रूबी के भाई ने ट्विटर पर मांगा था इंसाफ।
X
रूबी के भाई ने ट्विटर पर मांगा था इंसाफ।रूबी के भाई ने ट्विटर पर मांगा था इंसाफ।

  • कोर्ट रूम में जज से बोली रूबी- सर, क्या मुझे इंसाफ मिलेगा?
  • सीतामढ़ी में पहली बार इस तरह से कोई दहेज पीड़िता न्याय के लिए कोर्ट पहुंची

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 02:50 AM IST

सीतामढ़ी. दहेज की आग में झुलसी रूबी मिश्रा मंगलवार को सिविल कोर्ट में पटना से एंबुलेंस में बयान देने के लिए पहुंची। वो न ठीक से बोल पा रही थी और न ही चल पा रही थी। कोर्ट रूम में स्ट्रेचर पर लेटे-लेटे ही उसने बयान दिया। सीतामढ़ी में पहली बार इस तरह से कोई दहेज पीड़िता न्याय के लिए कोर्ट पहुंची थी।

बाजपट्टी के बनगांव की रूबी की शादी 4 साल पहले सोनबरसा के दोस्तिया गांव के गौतम मिश्रा से हुई थी। 27 नवंंबर 2019 को रूबी को जलाने का प्रयास किया गया। तब गांव के मुखिया ने उसे बचाया और अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस ने इस मामले में खास दिलचस्पी नहीं ली थी। इसके बाद रूबी को पीएमसीएच में भर्ती कराया गया। कोर्ट ने संज्ञान लिया तब रूबी को मंगलवार को पीएमसीएच से सीतामढ़ी सिविल कोर्ट में उपस्थित कराया गया।

जख्मी के भाई ने 12 दिन बाद ट्विटर पर मांगा था इंसाफ
जख्मी के भाई विक्रम झा ने घटना के 12 दिन बाद ट्विटर पर बहन के साथ घटी घटना को डाला है। इससे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राहुल गांधी आदि को टैग किया गया है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना