पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Patna News Due To The Presence Of Humans At The Site Of Great Legends The Mind Starts To Concentrate

महापुरुषाें के स्थल पर मनुष्य के जाने से एकाग्र हाेने लगता है मन

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पटना| झूला लगे कदम की डाली, उस पर झूमे कृष्ण मुरारी...। श्री राधाकृष्ण प्रणामी मंदिर परमहंस पीठ सत्संग धाम में चल रहे झूलनाेत्सव में यह गीत गाते हुए श्रद्धालुअाें ने भगवान काे झूलाया।

चातुर्मास के क्रम में वीतक कथा समेत अन्य अायाेजनाें में यहां बड़ी संख्या में श्रद्धालु जुट रहे हैं। कथा प्रसंग में महंत स्वामी सुरेशचंद्र शास्त्री जी महाराज ने कहा कि सावन का महीना पवित्र महीना है। इसमें मनुष्य काे तीर्थयात्रा करनी चाहिए। महामति श्री प्राणनाथ जी महाराज ने अपनी जागनी यात्रा के क्रम में कर्इ तीर्थ स्थापित किए। शास्त्राें में हरिद्वार, नासिक, प्रयाग, बाबा धाम, गया, मथुरा, अयाेध्या अादि पवित्र स्थल हैं, इन स्थानाें पर जाने से मनुष्य के छाेटे-माेटे दाेष दूर हाे जाते हैं। महाराज श्री ने कहा कि महापुरुषाें के स्थल पर मनुष्य के जाने मात्र से चित एकाग्र हाेने लगता है। इसलिए स्वयं काे कर्म बंधन में न बांधें। स्थान का बहुत बड़ा महत्व हाेता है। इससे पहले सवा लाख निजनाम मंत्र का जप, गीता पाठ, स्वसम वेद पाठ भी चलता रहा। व्यास पीठ का पूजन हरनाैत की सुनीता देवी ने किया। जबकि मंत्र जाप में नरेंद्र नाथ पाण्डेय, श्याम दास, संताेष दास अादि थे।

खबरें और भी हैं...