• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • Union Home Minister and BJP leader Amit Shah say next election in Bihar will be fought under the leadership of Nitish Kumar

बिहार / नीतीश के नेतृत्व में विधानसभा चुनाव लड़ेगा एनडीए, अटूट है भाजपा जदयू का गठबंधन: अमित शाह

वैशाली के खरौना मैदान में जनसभा को संबोधित करते अमित शाह। वैशाली के खरौना मैदान में जनसभा को संबोधित करते अमित शाह।
अमित शाह को सुनने पहुंची महिलाएं। अमित शाह को सुनने पहुंची महिलाएं।
अमित शाह की सभा में जुटी भीड़। अमित शाह की सभा में जुटी भीड़।
X
वैशाली के खरौना मैदान में जनसभा को संबोधित करते अमित शाह।वैशाली के खरौना मैदान में जनसभा को संबोधित करते अमित शाह।
अमित शाह को सुनने पहुंची महिलाएं।अमित शाह को सुनने पहुंची महिलाएं।
अमित शाह की सभा में जुटी भीड़।अमित शाह की सभा में जुटी भीड़।

  • लालू यादव को जेल में रहकर फिर से सीएम बनने का सपना आने लगा है
  • लालू यादव का राज था तो बिहार का विकास दर तीन फीसदी था

Dainik Bhaskar

Jan 16, 2020, 05:14 PM IST

पटना. बिहार विधानसभा के लिए इसी साल अक्टूबर-नवंबर में चुनाव होने हैं। चुनावी साल की पहली सभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने घोषणा कर दी कि एनडीए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के चेहरे पर चुनाव लड़ेगा। 

वैशाली में जनसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि चुनाव में एनडीए का चेहरा कौन होगा इस संबंध में कुछ लोग अफवाह फैलाना चाहते हैं। मैं सभी अफवाह को खत्म करने आया हूं। बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए चुनाव लड़ेगा। भाजपा और जदयू का गठबंधन अटूट है। इसमें कोई सेंधमारी नहीं हो सकती। 

अमित शाह ने कहा कि लालू यादव को जेल में रहकर फिर से सीएम बनने का सपना आने लगा है। लालू यादव का राज था तो बिहार का विकास दर तीन फीसदी था। नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार का विकास दर 11 फीसदी है। बिहार में एनडीए की सरकार लगातार काम कर रही है। सभी घरों तक बिजली पहुंच गई है। 93 फीसदी गांव पक्की सड़क से जुड़े हैं। लालू यादव बिहार को लालटेन युग में छोड़कर गए थे एनडीए ने बिहार को एलईडी के युग में पहुंचा दिया है। लालू यादव मवेशियों का चारा खा गए। हम गौ धन की सुरक्षा की दिशा में काम कर रहे हैं। 

एनआरसी पर नहीं की बात
अमित शाह ने एनआरसी पर जदयू के स्टैंड को देखते हुए इस संबंध में कुछ नहीं कहा। जदयू ने नागरिकता संशोधन कानून को संसद के दोनों सदन में पास कराते समय बीजेपी का साथ दिया था। एनआरसी पर पार्टी का मत अलग है। नीतीश कुमार कह चुके हैं कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं होगा। सभा में अमित शाह ने जनता से दोनों हाथ उठवाकर सीएए और जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने पर समर्थन मांगा। हालांकि इस दौरान उन्होंने एनआरसी और एनपीआर की चर्चा तक नहीं की।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना