इलेक्ट्रॉनिक ब्लाइंड स्टिक और सेंसर टोपी खास आकर्षण

Patna News - विश्व दिव्यांग दिवस पर तोषियास संस्था की ओर से नंदन टावर, कॉलोनी मोड, कंकड़बाग में दिव्यांगों की विज्ञान और तकनीक...

Dec 04, 2019, 08:47 AM IST
Patna News - electronic blind stick and sensor cap special attraction
विश्व दिव्यांग दिवस पर तोषियास संस्था की ओर से नंदन टावर, कॉलोनी मोड, कंकड़बाग में दिव्यांगों की विज्ञान और तकनीक के माध्यम से मदद के लिए बनाए गए मॉडलों की प्रदर्शनी लगायी गई। संस्था के सचिव सौरव कुमार ने कहा कि बिहार के जाने-माने इनोवेटर योगेश से तकनीकी प्रशिक्षण ले रहे दिव्यांगों द्वारा कई मॉडल विकसित किए गए हैं। दिव्यांग छात्रों का आत्मविश्वास बढ़ाने और उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से योगेश द्वारा दिव्यांग छात्रों को मेकेनिकल, इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक से संबंधित बेसिक जानकारी नि:शुल्क दी जा रही है। प्रदर्शनी में कई ऐसे मॉडल प्रदर्शित किए गए जो दिव्यांगों को उनके दैनिक कार्यों को आसान बनाने में सहायक होंगे। इस प्रदर्शनी की सबसे अनोखी बात यह है कि दिव्यांग लोगों की मदद के लिए बनाए गए मॉडल दिव्यांगों द्वारा ही बनाए गए हैं। प्रदर्शनी में नेत्रहीनों के लिए फोल्डेबल इलेक्ट्रॉनिक ब्लाइंड स्टिक और सेन्सर युक्त टोपी आकर्षण के केंद्र रहे। ब्लाइंड स्टिक और सेंसर युक्त कैप की मदद से नेत्रहीन बहुत आसानी से अपने रोजमर्रा का काम कर सकते हैं। बूढ़े, बीमार, लाचार और दिव्यांगों को देखते हुए ऑटोमैटिक एक्सटेंशन बोर्ड बनाया है, जिसके द्वारा टॉर्च और किसी भी रिमोट से पंखा, बल्ब ऑन ऑफ कर सकते हैं। योगेश के नेतृत्व में अमित, सुमन वर्मा, संजय भंडारी, विकास शर्मा, गुड्डु और अरविंद के उपस्कर, उपकरण को खूब सराहा गया। अधिवक्ता विकास कुमार ने सभी प्रतिभागियों का स्वागत किया जबकि संस्था के सचिव सौरभ ने धन्यवाद ज्ञापन किया।

दिव्यांगों को दिए गए श्रवण-यंत्र और बैशाखी

सिटी रिपोर्टर. पटना

प्रत्येक व्यक्ति में कोई न कोई विशेष गुण होता है। दिव्यांग जनों में यह और भी विकसित रूप में होता है। इनमें आत्म-बल भर कर हम उनका हीं नहीं समाज का भी भला कर सकते हैं। ये बातें मंगलवार को इंडियन इस्टीट‌्यूट ऑफ हेल्थ एजुकेशन एंड रिसर्च, बेउर में, विश्व दिव्यांंग दिवस पर भारत सरकार के समेकित पुनर्वास केंद्र, पटना के सौजन्य से आयोजित दिव्यांग पुनर्वास शिविर का उद्घाटन करते हुए बिहार के सहकारिता मंत्री राणा रणधीर सिंह ने कहीं। उन्होंने बिहार विकलांग जनाधिकार मंच के अध्यक्ष डॉ. सुनील कुमार सिंह के आग्रह पर सहकारिता विभाग में दिव्यांग जनों के लिए सहकारिता-समूह बनाने का आश्वासन भी दिया। मुख्य अतिथि मेजर बलबीर सिंह 'भसीन' ने कहा कि दिव्यांगों के प्रति जो हिकारत की नज़र रखता है, वह ख़ुद मानसिक दिव्यांग है।

समारोह की अध्यक्षता करते हुए संस्थान के निदेशक-प्रमुख डॉ. अनिल सुलभ ने अलग से विकलांग पुनर्वास विभाग सृजित करने की मांग दुहराई। बिहार नेत्रहीन परिषद के महासचिव डॉ. नवल किशोर शर्मा, बिहार विकलांग अधिकार मंच के अध्यक्ष डॉ. सुनील सिंह सहित अन्य लोगों ने अपने विचार रखे। शिविर में 17 दिव्यांगों को ट्राई साइकिल, श्रवण-यंत्र और बैशाखी निःशुल्क दिए गए।

X
Patna News - electronic blind stick and sensor cap special attraction
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना