--Advertisement--

बाढ़ / नेपाल में बारिश से नदियों में उफान, एक दर्जन नदियां खतरे के निशान के पार



नदियों में आई बाढ़ की वजह से लोगों को काफी परेशानी हो रही है नदियों में आई बाढ़ की वजह से लोगों को काफी परेशानी हो रही है
  • तटीय इलाके में रह रहे लोगों के लिए प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है
Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 05:37 PM IST

पटना. नेपाल में लगातार हो रही बारिश के साथ-साथ कुछ नदियों के मैदानी इलाकों में रुक-रुक कर हो रही बारिश से सूबे की नदियों में फिर से उफान है। एक दर्जन नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। महानंदा भी 48 घंटे से लाल निशान के ऊपर बह रही हैं। गंगा तो पिछले एक माह से लाल निशान के ऊपर है।

 

एक दर्जन से अधिक नदियां उफान पर
इस समय सूबे की एक दर्जन से अधिक नदियां खतरे के निशान से ऊपर हैं। इसके कारण कई इलाकों में बाढ़ की समस्या गंभीर बनी हुई है। गंगा, कोसी, सोन, गंडक, बूढ़ी गंडक, महानंदा, कमला बलान के अलावा बाया, माही, बरंडी, पश्चिम कनकई, परमान नदियां भी लाल निशान से ऊपर बह रही हैं। सारण, पूर्णिया, खगड़िया, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर में एक से अधिक नदियों का पानी खतरे के निशान से ऊपर बह रहा है।

 

कई नदियां खतरे के निशान के ऊपर
गंगा पटना, भागलपुर व कटिहार में जबकि कोसी सुपौल, कटिहार व खगड़िया में, गंडक गोपालगंज में, बागमती सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर व खगड़िया में, बूढ़ी गंडक खगड़िया में, कमला बलान मधुबनी व दरभंगा में, महानंदा पूर्णिया व कटिहार में, बाया समस्तीपुर में, माही व गंडकी सारण में, पश्चिम कनकई किशनगंज में, घोघा नदी भागलपुर में, बरंडी कटिहार में और परमान नदी पूर्णिया के बायसी में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

 

जल संसाधन विभाग के अनुसार गंगा भागलपुर व कहलगांव में, कोसी कटिहार व खगड़िया में, बागमती दरभंगा में, बूढ़ी गंडक मुजफ्फरपुर व समस्तीपुर में, खिरोई दरभंगा में, महानंदा कटिहार में, घाघरा सीवान व सारण में, कमला बलान मधुबनी में ऊपर बढ़ रही है।

 

कौन नदी कितनी ऊपर-

 

  • गंगा- 83 सेंटीमीटर
  • कोसी- 1 मीटर
  • गंडक- 22 सेमी
  • बूढ़ी गंडक- 1.10 मीटर
  • सोन- 15 सेमी
  • बागमती- 27 सेमी
  • कमला- 1.40 मीटर
  • महानंदा- 45 सेमी
  • बाया- 52 सेमी
  • माही- 1.53 मीटर
  • गंडकी-1.16
  • बरंडी- 50 सेंमी
  • पश्चिम कनकई- 80 सेमी
  • परमान- 80 सेमी
  • घोघा- 4.49 मीटर
--Advertisement--