पूर्व युवा कांग्रेस अध्यक्ष की अबतक नहीं हुई गिरफ्तारी

Patna News - गुरुग्राम की रहने वाली मिथिलेश सिंह ने पटना और बिहार पुलिस के बड़े अधिकारियों पर प्रदेश युवा कांग्रेस के पूर्व...

Sep 14, 2019, 09:07 AM IST
गुरुग्राम की रहने वाली मिथिलेश सिंह ने पटना और बिहार पुलिस के बड़े अधिकारियों पर प्रदेश युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार और उसके शागिर्दों को बचाने का आरोप लगाया है। मिथिलेश ने कहा कि कोतवाली और बुद्धा काॅलोनी थाने में मामला दर्ज होने के तीन महीने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है। पटना पुलिस ने अबतक कोर्ट को यह भी जानकारी नहीं दी है कि ललन ने मुझे और मेरे पति निर्भय सिंह पर गलत एफआईआर कराई थी जिसके कारण हम 13 महीने तक जेल में रहे। उन्होंने कहा कि ललन ने जिस केस में मुझे फंसाया है, उस मामले में कोर्ट में गवाही चल रही है। गवाह उपस्थित हो रहे हैं और पुलिस को वही गवाह पूछताछ के लिए, जांच के लिए नहीं मिल रहे हैं। मिथिलेश ने कहा कि ललन ने झूठी एफआईआर में मेरे परिवार को फंसाकर हमारी जिंदगी तबाह कर दी है। अब मैं ही न्याय कि लिए दर दर भटक रही हूं।

महीनों बाद भी डीएसपी ने नहीं दी रिपोर्ट टू

मिथिलेश ने कहा कि पुलिस मुख्यालय के आदेश के बाद ललन पर एफआईआर हुई है। उस मामले में कोतवाली डीएसपी को रिपोर्ट टू देनी है। लेकिन महीनों बीत जाने के बाद भी अबतक डीएसपी ने रिपोर्ट टू नहीं सौंपी है। इस मामले में अबतक आरोपियों से पूछताछ नहीं हो सकी है। उन्होंने कहा कि मैं दिल्ली से अबतक दो दर्जन से अधिक बार पटना आ चुकी हूं। डीएसपी तीन बार मेरा बयान नोट कर चुके हैं। लेकिन अब तक उनकी कार्रवाई आगे नहीं बढ़ी है।

जांच के बाद हुई थी एफआईआर

मिथिलेश और उनके पति निर्भय जेल से बाहर आने के बाद पुलिस मुख्यालय पहुंचे और न्याय की गुहार लगाई। इसके बाद मामले की जांच हुई। जांच में गुरुग्राम दंपती पर दर्ज तीनों एफआईआर फर्जी पाई गई। इसके बाद बीते जून में ललन कुमार, उसके दोस्त निर्भय सिन्हा, धैर्य कुमार, दो एसआई विक्रमादित्य झा और मनीष कुमार पर बुद्धा काॅलोनी और कोतवाली थाने में मामला दर्ज किया गया।

80 लाख की ज्वेलरी ठगने का आरोपी है ललन

ललन पर बोरिंग रोड स्थित नवर| ज्वेलर्स एंड ब्रदर्स से 80 लाख की ज्वेलरी लेकर पैसे नहीं देने का भी आरोप है। ज्वेलर्स धीरज कुमार ने बताया कि ललन की शादी होने वाली थी। उनसे परिचय था। शादी से पहले वे आए और 80 लाख की ज्वेलरी खरीदी। इसके एवज में उन्होंने धीरज को 80 लाख का चेक दिया जो बाउंस कर गया। इसके बाद धीरज ने एसकेपुरी थाने में ललन के खिलाफ मामला दर्ज कराया।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना