चार साल के इशांत को बचाने में जुटा परिवार

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:30 AM IST

Patna News - किदवर्दपुरी के सर्राफ निवास में निशांत की गोली से घायल इकलौते बेटे इशांत सर्राफ को बचाने के लिए पूरा परिवार जुटा...

Patna News - four year old family saved in ishant
किदवर्दपुरी के सर्राफ निवास में निशांत की गोली से घायल इकलौते बेटे इशांत सर्राफ को बचाने के लिए पूरा परिवार जुटा है। परिवार के सदस्य निशांत के इकलौते चिराग को बचाने की हर कोशिश कर रहे हैं। पारस अस्पताल में जहां इशांत का इलाज चल रहा है, वहां के डॉक्टरों की टीम उसके इलाज में जुटी है। मुंबई के नामचीन चाइल्ड स्पेशलिस्ट भी पारस अस्पताल के डॉक्टरों के संपर्क में हैं। वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग से उनसे लगातार बात हाे रही है। हर घंटे यहां से रिपोर्ट मुंबई भेजी जा रही है। सर्राफ परिवार के काफी करीबी व समाजसेवी कमल नाेपानी ने कहा कि इशांत को गुरुवार को ही एयर एंबुलेंस से मुंबई ले जाने की बात सामने आई थी, पर यहां के डॉक्टरों ने कहा कि अभी कम से कम 48 घंटे तक इसकी हालत स्टेबल होने दें। नोपानी की मानें तो उसकी हालत में धीरे-धीरे सुधार हो रहा है। परिवार वालों की कुछ उम्मीद जगी है। अगले दो दिनों के बाद जब इशांत की स्थिति और बेहतर हो जाएगी तो उसे एयर एंबुलेंस से मुंबई ले जाया जाएगा। परिवार वाले मुंबई के सभी बड़े शिशु रोग विशेषज्ञों के संपर्क में हैं।

एफएसएल काे भेजा गया मोबाइल

पुलिस ने मौके से निशांत और उनकी प|ी अलका का मोबाइल बरामद किया है। लैपटॉप भी जब्त किया है। सुसाइड नोट भी मिला था। कोतवाली थानेदार रामशंकर ने बताया कि पुलिस ने दोनों के मोबाइल, लैपटॉप और सुसाइड नोट को एफएसएल जांच में भेज दिया है। पति का मोबाइल फाॅर्मेट था। सुसाइड नोट में निशांत की लिखावट है या नहीं, यह जांच से पता चलेगा।



परिवार और शहरवासी कर रहे दुआ : इशांत की जिंदगी के लिए सर्राफ परिवार के सभी सदस्य दुआ कर रहे हैं। भगवान से इस मासूम को बचा लेने की लिए प्रार्थना की जा रही है। महिलाएं और पुरुष सुबह से लेकर रात तक बस यही दुआ कर रहे हैं कि निशांत का इकलौता चिराग बच जाए। पूरा समाज भी उसकी जिंदगी के लिए प्रार्थना कर रहा है। शहरवासी भी उसके बच जाने की दुआ मांग रहे हैं। भगवान उसे नई जिंदगी दे दें।

X
Patna News - four year old family saved in ishant
COMMENT