मॉनसून / नेपाल-मध्य प्रदेश में बारिश से उफनायी गंगा, गांधीघाट के बाद हाथीदह में खतरे के निशान के पार



मध्यप्रदेश में भारी बारिश से बढ़ा गंगा नदी का जलस्तर। मध्यप्रदेश में भारी बारिश से बढ़ा गंगा नदी का जलस्तर।
X
मध्यप्रदेश में भारी बारिश से बढ़ा गंगा नदी का जलस्तर।मध्यप्रदेश में भारी बारिश से बढ़ा गंगा नदी का जलस्तर।

  • मध्यप्रदेश में हो रही भारी बारिश से गंगा नदी का बढ़ा जलस्तर

Dainik Bhaskar

Sep 16, 2019, 07:49 PM IST

पटना. नेपाल के तरायी वाले इलाकों और मध्यप्रदेश के मैदानी क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश से गंगा नदी में फिर से उफान है। पिछले एक सप्ताह से नदी का जलस्तर लगातार ऊपर जा रहा है। हालांकि पिछले 48 घंटे में इसमें जबरदस्त तेजी आयी है। नदी पटना के गांधीघाट और हाथीदह में खतरे के निशान के पार कर गया है। गांधीघाट में तो रविवार की शाम को ही नदी लाल निशान से ऊपर पहुंच गयी जबकि सोमवार को वह हाथीदह में भी खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गयी। यहां पिछले 48 घंटे में एक मीटर से अदिक की बढ़ोतरी हुई है।

 

उधर, बक्सर में गंगा का जलस्तर लाल निशान से महज 3 सेंटीमीटर नीचे रह गया है। गंगा नदी का जलस्तर बक्सर से लेकर पटना, मुंगेर और भागलपुर सभी जगहों पर तेजी से बढ़ रही है। सोमवार को नेपाल में फिर बारी बारिश हुई। इससे नदी का जलस्तर और बढ़ने की आशंका है।

 

पटना में तो नदी का जलस्तर 24 घंटे के अंदर दो स्थानों पर लाल निशान से ऊपर पहुंच गया। गांधीघाट पर रविवार को नदी के जलस्तर में अप्रत्याशित बढ़ोतरी के बाद यह लाल निशान से पांच सेंटीमीटर ऊपर पहुंच गयी और सोमवार की सुबह तक यह खतरे के निशान से 34 सेंटीमीटर ऊपर पहुं गयी। दीघा में नदी बीती रात खतरे कि निशान से लगभग 59 सेंटीमीटर नीचे था, जो सोमवार को मात्र 31 सेंटीमीटर रह गया है। इसके जलस्तर में पिछले 48 घंटे में 66 सेंटीमीटर की भारी वृद्धि हुई है। इसी तरह हाथीदह में नदी के जलस्तर में पिछले 48 घंटे में 105 सेंटीमीटर की वृद्धि हुई है। आगे भी इसमें बढ़ोतरी की संभावना व्यक्त की गयी है।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना