गर्दनीबाग और अगमकुअां में अब नहीं लगेगा कूड़े का अंबार

Patna News - शहर में घनी आबादी वाले क्षेत्र में सेकेंडरी कूड़ा प्वाइंट नहीं बनेगा। सरकार की तरफ से इस पर पैनी नजर रखी जा रही है।...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:40 AM IST
Patna News - garbani and agamukas will no longer look like litter
शहर में घनी आबादी वाले क्षेत्र में सेकेंडरी कूड़ा प्वाइंट नहीं बनेगा। सरकार की तरफ से इस पर पैनी नजर रखी जा रही है। राजधानी में अब किसी सेकेंडरी कूड़ा प्वाइंट में कूड़ा-कचरा का पहाड़ नहीं बनेगा। हर दिन सेकेंडरी कूड़ा प्वाइंट को जीरो लेवल पर रखना है। इसके लिए तीनों सेकेंडरी डंपिंग यार्ड से संबंधित अधिकारियाें को नगर निगम की तरफ से निर्देश दिया गया है।

गर्दनीबाग एवं अगमकुअां सेकेंडरी प्वाइंट के आस-पास रहने वाले लोगाें को तुरंत बदबू से राहत मिले, इसके लिए नियमित रूप से केमिकल का छिड़काव किया जा रहा है। वहीं शहरवासियों को इस समस्या से निजात दिलाने के लिए पटना नगर निगम के छह अंचलाें में सेकेंडरी प्वाइंट ट्रांसफर स्टेशन का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए नगर निगम जगह चिह्नित कर रहा है। अगस्त से गर्दनीबाग और अगमकुअां में ट्रांसफर स्टेशन का निर्माण कार्य शुरू हाेगा।

वेस्ट टू एनर्जी परियोजना के लिए एजी डॉटर्स एजेंसी का चयन किया गया है। नगर निगम के विभिन्न अंचलों से संग्रहित कचरे को इन्हीं दो ट्रांसफर स्टेशनों पर गिराया जाएगा। सोर्स सेग्रिगेशन एजेंसी द्वारा कचरे की छंटनी एवं डिस्पोजल के बाद शेष कचरे को ट्रांसफर स्टेशन से सीधे रामचक बैरिया भेजा जाएगा।

सेकेंडरी प्वाइंट पर होगी कूड़े की छंटनी

पटना सिटी, गर्दनीबाग अाैर अगमकुअां से कूड़ा हटाने का काम लगातार जारी है। कूड़ा से मुक्त करने के लिए सेकेंडरी प्वाइंट पर गीला कचरा, सूखा कचर, प्लास्टिक, मलबा एवं अन्य काे छांटने के लिए एक एजेंसी का चयन करने की प्रक्रिया चल रही है। चयनित एजेंसी द्वारा कचरे को छांटने के बाद भेजा जाएगा। जहां उनकी री-साइक्लिंग, रिफाइनिंग होगा। इसके बाद शेष 20% कचरे को रामचक बैरिया में भेजा जाएगा।

कृषि विवि परिसर में बनेगा कंपोस्ट पिट

पटना स्थित कृषि विश्वविद्यालय के परिसर में कंपोस्ट पिट तैयार किया जाएगा। सेकेंडरी प्वाइंट्स पर प्रक्रिया पूरी होने के बाद सभी गीले कचरे को कंपोस्ट पिट तक भेजा जाएगा। वेस्ट टू एनर्जी परियोजना के क्रियान्वयन के लिए चयनित एजेंसी एजी डॉटर्स अगस्त से काम शुरू करेगी।

गर्दनीबाग डंपिंग यार्ड की क्या है अभी स्थिति

शनिवार की दोपहर 1:30 बजे गर्दनीबाग सेकेंडरी डंपिंग यार्ड में काफी कूड़ा था। छोटी गाड़ियाें से शहर से कूड़ा-कचरा लाकर यार्ड में लगातार गिराया जा रहा है। करीब 300 से अधिक टीपर गाड़ी से कूड़ा यार्ड में गिरता है। यहां से इसे 50 हाईवा गाड़ियों से बैरिया भेजा जाता है।

इकट्‌ठा हुए कचरे का होगा ट्रीटमेंट

नगर निगम के मुख्य डंपिंग प्वाइंट रामचक बैरिया में भी वर्षों से एकत्रित हो रहे कचरे का भी साइंटिफिक ट्रीटमेंट एवं सेग्रिगेशन किया जाएगा। इसके लिए एजेंसी चयन की प्रक्रिया जुलाई के अंततक पूरी कर ली जाएगी। इसे अगस्त के पहले हफ्ते से शुरू करने का लक्ष्य रखा गया है।

X
Patna News - garbani and agamukas will no longer look like litter
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना