बिहार / किसानों के खेतों की मिट्‌टी प्रयोगशाला में निःशुल्क जांच करा रही सरकार: कृषि मंत्री

प्रेम कुमार, कृषि मंत्री। प्रेम कुमार, कृषि मंत्री।
X
प्रेम कुमार, कृषि मंत्री।प्रेम कुमार, कृषि मंत्री।

  • पंचायतों व वार्ड स्तर पर किसानों को आज दिया जाएगा स्वायल हेल्थ कार्ड

दैनिक भास्कर

Dec 04, 2019, 07:32 PM IST

पटना. विश्व मृदा दिवस के मौके पर सभी जिलों के पंचायतों में वार्ड स्तर पर किसानों को स्वायल हेल्थ कार्ड का वितरण किया जाएगा। राज्य, जिला और प्रखंड स्तर पर भी स्वायल हेल्थ कार्ड दिया जाएगा। इस दौरान किसानों को संतुलित मात्रा में उर्वरक के उपयोग की सलाह दी जाएगी। बताया जाएगा मिट्‌टी में पोषक तत्व की कमी के हिसाब से ही उर्वरक का उपयोग करने से बेहतर उत्पादन होगा। सरकार किसानों के खेतों की मिट्‌टी जांच करा स्वायल हेल्थ कार्ड बनवाती है। मिट्‌टी नमूनों का संग्रह कर प्रयोगशाला में निशुल्क जांच की व्यवस्था है।

मंत्री ने कहा कि बिना मिट्‌टी जांच कराये खेतों में अधिक खाद का उपयोग करने वाले किसानों को फसल का कम उत्पादन ही नहीं मिलता, बल्कि मिट्‌टी की उर्वरता भी समाप्त होती है। खाद में अधिक खर्च से कृषि में लागत बढ़ने से किसानों की आमदनी घटेगी।

राज्य सरकार किसानों को जैविक खेती के लिए प्रोत्साहित कर रही है। जैविक कॉरीडोर भी बनाया गया है। बक्सर से भागलपुर तक के 12 जिलों में जैविक खेती के लिए किसानों को अग्रिम इनपुट अनुदान की भी व्यवस्था की गई है। मिट्‌टी को पोषक तत्व की अधिक उपलबधता के लिए पुआल को खेतों की मिट्‌टी में दबा देना चाहिए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना