आर ब्लॉक-दीघा रेलखंड में आने वाले मकानों को जनवरी में तोड़ा जाएगा / आर ब्लॉक-दीघा रेलखंड में आने वाले मकानों को जनवरी में तोड़ा जाएगा

Patna News - आर ब्लॉक-दीघा रेलखंड के रेखांकन में आने वाले पक्के मकानों को तोड़ने का अभियान जनवरी में शुरू होगा। डीएम कुमार रवि...

Dec 07, 2018, 04:36 AM IST
आर ब्लॉक-दीघा रेलखंड के रेखांकन में आने वाले पक्के मकानों को तोड़ने का अभियान जनवरी में शुरू होगा। डीएम कुमार रवि ने कहा कि आर ब्लॉक-दीघा रेलखंड के रेखांकन में आने वाले पक्के मकानों को पिछले अभियान के दौरान चिह्नित किया गया है। चिह्नित मकानों के मालिकों से रेलखंड के रेखांकन में आने वाले हिस्से को तोड़कर हटाने की अपील की गई है। यदि खुद तोड़ कर नहीं हटाते हैं तो जनवरी से शुरू होने वाले अभियान के दौरान कार्रवाई होगी।

इस रेलखंड से अतिक्रमण को हटने के बाद रेलवे अपना लोहे का ट्रैक हटाने का काम कर रहा है। ज्यादातर जगहों से रेलवे ने अपने ट्रैक हटा लिए हैं। माह के अंत तक शेष जगहों से भी ट्रैक हटा लिए जाएंगे। इसके बाद अभियान चलाकर शेष अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई जिला प्रशासन शुरू करेगा, ताकि आम लोगों को ट्रैफिक जाम से निजात दिलाने के लिए आर ब्लॉक से जेपी सेतु तक 4 लेन सड़क का निर्माण कार्य शुरू हो सके।

तार काट रेलवे लाइन पर फिर सजने लगीं दुकानें

मंदिरों की मूर्तियां होंगी शिफ्ट

जनवरी में शुरू होने वाले अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान रेलखंड के रेखांकन में आने वाले मंदिरों की मूर्तियों को शिफ्ट करने की कार्रवाई होगी। पिछले अभियान के दौरान जिला प्रशासन ने मंदिरों का संचालन करने वाली समितियों से मंदिर की मूर्तियों को अपने-अपने आस्था के अनुरूप दूसरे नजदीकी मंदिर में शिफ्ट करने की अपील की थी।

47 मकान मालिकों को दिया नोटिस

रेलखंड के रेखांकन में आने वाले 47 स्थायी यानी पक्के मकानों के हिस्से को तोड़ने के लिए दोबारा नोटिस दिया गया है। नोटिस में जारी आदेश का पालन नहीं करने वाले मकानों को अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान जिला प्रशासन की संयुक्त टीम तोड़ेगी। इस पर जो खर्च होगा, उसे मकान मालिक को वहन करना होगा।

खोजा नया तरीका जिला प्रशासन ने

जिला प्रशासन ने अतिक्रमण को रोकने के लिए नया तरीका निकाला है। रेलवे द्वारा ट्रैक हटाए जाने वाले स्थानों के आसपास के स्थानों को यानी बैरिकेडिंग से सटे स्थानों को खोद कर छोड़ने का काम शुरू किया है, ताकि अतिक्रमणकारियों के लिए आने-जाने का रास्ता बंद हो सके। साथ ही अतिक्रमण करने के लिए उन्हें सपाट जगह नहीं मिले।

दोबारा अतिक्रमण करने वालों पर पुलिस दर्ज करेगी प्राथमिकी

आर ब्लॉक-दीघा रेलखंड से अतिक्रमण हटाने के बाद जिला प्रशासन ने लोहे के खंभे लगाकर तार से बैरिकेडिंग कर दी थी। दोबारा अतिक्रमण न हो, इसकी जिम्मेदारी स्थानीय थाने को दी गई थी। लेकिन, शिवपुरी और राजीवनगर रेलवे लाइन पर बैरिकेडिंग को काट कर हर रोज सब्जी की दुकानें लग रही हैं। इधर, गाय और भैंस का पालन कर दूध के विक्रेता फिर से कब्जा करने में जुट गए है। इस संबंध में पूछे जाने पर एसके पुरी थानाध्यक्ष केके दिवाकर ने कहा कि रेलखंड के रेखांकन में दोबारा कब्जा करने वाले लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। उनके सामान को जब्त किया जाएगा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना