राजनीति / लालू ने की जातिगत जनगणना की मांग, कहा-एक कॉलम जोड़ने में क्या है दिक्कत

राजद प्रमुख लालू यादव (फाइल फोटो) राजद प्रमुख लालू यादव (फाइल फोटो)
X
राजद प्रमुख लालू यादव (फाइल फोटो)राजद प्रमुख लालू यादव (फाइल फोटो)

  • लालू ने पूछा- जातिगत जनगणना का एक कॉलम और जोड़ने में क्या दिक्कत है?
  • क्या 5000 से अधिक जातियों वाले 60% अनगिनत पिछड़े-अतिपिछड़े हिंदू नहीं है?

दैनिक भास्कर

Dec 28, 2019, 06:53 PM IST

पटना. नागरिकता संशोधन कानून, राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर को लेकर इन दिनों देशभर में चर्चा हो रही है। इस चर्चा को आगे बढ़ाते हुए राजद प्रमुख लालू यादव ने जातिगत जनगणना की मांग की है। शनिवार को लालू यादव के ट्विटर अकाउंट से इस संबंध में एक ट्वीट पोस्ट किया गया। 

लालू ने अपने ट्वीट में लिखा कि कथित एनपीआर, एनआरसी और 2021 की भारतीय जनगणना पर लाखों करोड़ खर्च होंगे। सुना है एनपीआर में अनेकों अलग-अलग कॉलम जोड़ रहे है, लेकिन इसमें जातिगत जनगणना का एक कॉलम और जोड़ने में क्या दिक्कत है? क्या 5000 से अधिक जातियों वाले 60% अनगिनत पिछड़े-अतिपिछड़े हिंदू नहीं है जो आप उनकी गणना नहीं चाहते?

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना