पटना

  • Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन का हिस्सा रहे घरभरन सिंह का 95 साल की अवस्था में निधन
--Advertisement--

अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन का हिस्सा रहे घरभरन सिंह का 95 साल की अवस्था में निधन

भोजपुर जिले के अगिआंव प्रखण्ड के लसाढ़ी गांव की धरती वीरों की धरती है। यहां के लोगों देश की आजादी की गाथा अपनी शहादत...

Dainik Bhaskar

May 17, 2018, 02:00 AM IST
अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन का हिस्सा रहे घरभरन सिंह का 95 साल की अवस्था में निधन
भोजपुर जिले के अगिआंव प्रखण्ड के लसाढ़ी गांव की धरती वीरों की धरती है। यहां के लोगों देश की आजादी की गाथा अपनी शहादत व योगदान से लिखी है। लसाढ़ी गांव के ऐसे ही नायक घरभरन सिंह का निधन हो गया। वे स्व. रामानन्द सिंह के पुत्र थे। महज 19 साल की किशोरावस्था में उन्होंने 1942 में अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था। मंगलवार की रात करीब 10 बजे उन्होंने हमेशा के लिए आंखें मूंद लीं। वे बीते एक माह से बीमार चले आ रहे थे। वे 95 वर्ष के थे। उनका जन्म लसाढ़ी गांव के एक मध्यमवर्गीय परिवार में वर्ष 1923 में हुआ था।

घरभरन सिंह के पार्थिव शरीर के साथ खड़े परिजन।

घरभरन सिंह 1942 के क्रांति के नायक रहे, जिनकी मृत्यु 15 मई 2018 की रात करीब 10 बजे हो गयी। जवानी व बुढ़ापे की फाइल फोटो।

बाएं जांघ में खाई थी अंग्रेजों की गोली, आज गांव में ही होगा दाह संस्कार

1942 के आंदोलन में अंग्रेजी फौज ने 12 स्वतंत्रता सेनानियों को गोलियों से छलनी कर दिया था। जिसमें घरभरन सिंह के बाएं जांघ में गोली लगी थी लेकिन वे जिंदा बच गए थे। उनका विवाह छपरा जिले के छोटा ब्रह्मपुर गांव की सरस्वती देवी से हुआ था। दाम्पत्य जीवन में उन्हें पांच बेटे और तीन बेटी है। तीन बेटे गांव में खेतीबाड़ी करते हैं। आज सुबह आठ बजे क्रांति के नायक स्वतंत्रता सेनानी घरभरन सिंह का राजकीय सम्मान के साथ अपने पैतृक गांव में ही दाह संस्कार किया जाएगा।

ये 12 वीर सपूत हुए थे शहीद

15 सितम्बर 1942 की क्रांति में भोजपुर के कई वीर सपूत अंग्रेजों की हुकूमत के खिलाफ लड़े। जिसमें 12 शहीद हुए थे। शहीदों में बासुदेव सिंह, महादेव सिंह, रामपति सिंह, गिरिवर सिंह, जगरनाथ सिंह, अकली देवी, रामानुज पांडेय, रामदेव सिंह, शीतल लोहार, केश्वर सिंह, शीतल प्रसाद सिंह और केशव प्रसाद शामिल थे।

संवेदना जताने के लिए लगा तांता

घरभरन सिंह की खबर मिलते ही पहुंचने वाले नाम सन्देश विधायक अरुण सिंह, अगिआंव प्रखंड प्रमुख मुकेश सिंह यादव, जिला पार्षद उपाध्यक्ष फूलवंती देवी, अगिआंव बीडीओ सन्नी सौरभ, सीओ अमित कुमार और अन्य जनप्रतिनिधि शामिल रहे।

अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन का हिस्सा रहे घरभरन सिंह का 95 साल की अवस्था में निधन
अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन का हिस्सा रहे घरभरन सिंह का 95 साल की अवस्था में निधन
X
अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन का हिस्सा रहे घरभरन सिंह का 95 साल की अवस्था में निधन
अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन का हिस्सा रहे घरभरन सिंह का 95 साल की अवस्था में निधन
अंग्रेजों भारत छोड़ो आंदोलन का हिस्सा रहे घरभरन सिंह का 95 साल की अवस्था में निधन
Click to listen..