Hindi News »Bihar »Patna» Student Suicides Front Of Train

हिल स्टेशन से हंसी-खुशी छुटि्टयां मना घर लौट रहा था बेटा, शिमला से लौटते पता चला इंटर में है फेल, ट्रेन के आगे कूद दे दी जान

हिल स्टेशन से हंसी-खुशी छुटि्टयां मना घर लौटे मां-पिता से छीन गया इकलौता बेटा

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 14, 2018, 08:42 AM IST

  • हिल स्टेशन से हंसी-खुशी छुटि्टयां मना घर लौट रहा था बेटा, शिमला से लौटते पता चला इंटर में है फेल, ट्रेन के आगे कूद दे दी जान
    +1और स्लाइड देखें
    मृतक प्रदुम्न कुमार।

    आरा(बिहार)। जिस इंटर के छात्र के अपहरण की आशंका जताई जा रही थी उसका शव बुधवार कि दोपहर आरा रेलवे स्टेशन एवं जगजीवन हॉल्ट के बीच रेलवे ट्रैक से मिला। सोशल मीडिया पर खबर चलने के बाद मृतक के परिजन सदर अस्पताल पहुंचे और देर शाम उसकी शिनाख्त प्रदुम्न कुमार के रूप में की।

    - वह इंटर का छात्र था। जो अपने मामा के यहां रह कर पढ़ाई करता था। वह बुधवार की अलसुबह पटना कोटा ट्रेन से अपनी मां एवं परिवार के लोगों के साथ आरा रेलवे स्टेशन पर उतरा था।

    - इसके बाद शौच करने के नाम पर कहीं चला गया। बताया जा रहा है कि वह इंटर में फेल हो गया था।

    - घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि कृष्णा प्रसाद के पुत्र प्रद्युम्न कुमार अपने पूरे परिवार के साथ शिमला अरुणाचल प्रदेश सहित कई स्थानों पर घूमने गया था।

    - बुधवार को आरा रेलवे स्टेशन पर पटना कोटा ट्रेन से करीब 3 बजे उतरा। परिजन टिकट घर के बाहर रात होने की वजह से कपड़ा बिछा कर बैठ गए।

    - तभी प्रदुमन कुमार ने पेशाब करने की इच्छा जताई और उसके बाद वह कहीं चला गया। परिजनों ने काफी खोजबीन की लेकिन उसका पता नहीं चल पाया।

    - परिजनों ने अपहरण की आशंका जताते हुए इसके बाद रेल थाना एवं नवादा थाना में खोजबीन शुरू की लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल सका।

    - दोपहर में रेल थाना पुलिस को आरा एवं जगजीवन हाल्ट के बीच कुल संख्या 594/4 के पास रेलवे ट्रैक पर शव मिला। इसके बाद रेल थाना पुलिस पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल लाए।

    -यह खबर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ। इसके बाद परिजनों ने उसकी पहचान सदर अस्पताल में कपड़े से की।


    हिल स्टेशन से हंसी-खुशी छुटि्टयां मना घर लौटे मां-पिता से छीन गया इकलौता पुत्र
    - कृष्णा प्रसाद का इकलौता बेटा हंसी-खुशी सारे परिवार के लोगों के साथ खुशियां मना कर लौटा था। उसकी मां गुड़िया भी उसके साथ थी।

    - काफी देर से अपहरण की आशंका पाले मन में यह सोच रही थी कि अपहरणकर्ता यदि पैसे भी मांगेंगे तो घर बेच कर उसे छुड़ा लेगी। लेकिन यहां तो कुछ और ही मामला था।

    - आरा रेलवे स्टेशन पर उतरते ही प्रदुम्न को पता चल गया था कि वह इंटर में फेल है। इसके बाद उसकी मानसिक स्थिति ठीक नहीं रही और वह जाकर ट्रेन से कट गया।

    - देर शाम जब सदर अस्पताल में कपड़ों से उसकी पहचान हुई तो परिजनों की चीत्कार से माहौल पूरी तरह से गमगीन हो गया।

    रोते-बिलखते रहे माता-पिता
    - सदर अस्पताल में परिजनों को देखकर लोगों का दिल द्रवित हो उठा। पिता कृष्णा प्रसाद को लोग ढाढ़स बंधा रहे थे।

    - जबकि उसकी मां गुड़िया देवी की हालत बेहद खराब थी। वह बेहोश हो जा रही थी। बहन को दिलासा आसपास के मोहल्ले की महिलाएं दिला रही थी।

    - पूरा परिवार मर्माहत था। घर का इकलौता पुत्र हमेशा के लिए छीन गया।




  • हिल स्टेशन से हंसी-खुशी छुटि्टयां मना घर लौट रहा था बेटा, शिमला से लौटते पता चला इंटर में है फेल, ट्रेन के आगे कूद दे दी जान
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×