Hindi News »Bihar »Patna» एबीवीपी ने एसबीएसएस कॉलेज के प्राचार्य को पंखा झलकर जताया अपना विरोध

एबीवीपी ने एसबीएसएस कॉलेज के प्राचार्य को पंखा झलकर जताया अपना विरोध

एसबीएसएस कॉलेज में भीषण गर्मी में किसी भी क्लास रूम में पंखा नहीं होने के विरोध में कॉलेज अध्यक्ष आजाद कुमार के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 14, 2018, 02:55 AM IST

एबीवीपी ने एसबीएसएस कॉलेज के प्राचार्य को पंखा झलकर जताया अपना विरोध
एसबीएसएस कॉलेज में भीषण गर्मी में किसी भी क्लास रूम में पंखा नहीं होने के विरोध में कॉलेज अध्यक्ष आजाद कुमार के नेतृत्व में एबीवीपी कार्यकर्ताओं द्वारा बुधवार को गांधीगिरी किया गया। इस अवसर पर कार्यकर्ताओं ने कॉलेज के प्राचार्य डा लक्ष्मण झा को पंखा झेल कर विरोध दर्ज किया। कार्यकर्ताओं का कहना है कि प्राचार्य खुद एसी में बैठते हैं और छात्र-छात्राओं को पंखा भी नसीब नहीं होता है। जिसे एबीवीपी बर्दाश्त नहीं करेगा। इस अवसर पर राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अजीत चौधरी ने कहा कि प्राचार्य अपने सहयोगियों के साथ उमस भरी गर्मी में चिल्ड एसी का आनंद उठाते हैं और दूसरी ओर बिना पंखा के बीए पार्ट-वन परीक्षा छात्र-छात्रा गर्मी में बैठक दे रहे हैं। लेकिन कॉलेज प्रशासन की संवेदनहीनता है कि उस पर थोड़ा भी असर नहीं पर रहा है। उन्होंने कहा कि छात्रों से जो विकास मद में राशि ली जाती है उसका खर्चा छात्र-छात्राआें की सुविधा मुहैया क नहीं किया जाता है। जिसकी वजह से छात्रों को मूलभूत सुविधा कॉलेज में नहीं मिल पर रही है। मौके पर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य अरुण कुमार कहा कि कॉलेज परिसर में ना तो स्वच्छ पेयजल की सुविधा है, और ना ही शौचालय की व्यवस्था है। कॉलेज प्रशासन की उदासीन भ्रष्टाचार की ओर इशारा करता है।

प्राचार्य ने एक माह में सुविधा उपलब्ध करने का दिया भरोसा

इस अवसर पर प्राचार्य डॉ लक्ष्मण झा ने एक माह के अंदर कॉलेज परिसर में सभी बुनियादी सुविधा मुहैया कराने का भरोसा दिलाया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Patna News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: एबीवीपी ने एसबीएसएस कॉलेज के प्राचार्य को पंखा झलकर जताया अपना विरोध
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Patna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×