• Home
  • Bihar
  • Patna
  • मारपीट किये जाने को लेकर पीड़िता ने डीआईजी से लगाई न्याय की गुहार
--Advertisement--

मारपीट किये जाने को लेकर पीड़िता ने डीआईजी से लगाई न्याय की गुहार

खोदावन्दपुर थाना क्षेत्र के सिरसी गांव में महीनों पूर्व हुई मारपीट के मामले में स्थानीय पुलिस द्वारा बरती जा रही...

Danik Bhaskar | Jun 14, 2018, 02:55 AM IST
खोदावन्दपुर थाना क्षेत्र के सिरसी गांव में महीनों पूर्व हुई मारपीट के मामले में स्थानीय पुलिस द्वारा बरती जा रही शिथिलता को लेकर पीड़िता ने डीआईजी मुंगेर से न्याय की गुहार लगाई है। डीआईजी मुंगेर को दिए गए आवेदन में पीड़िता अहमदी खातुन ने कहा है कि मामूली विवाद में घर में घुसकर गांव के ही दबंग पड़ोसियों ने फरवरी माह में ही लाठी-डंडा, रॉड और हथियार के बल पर पीट-पीट कर गंभीर रुप से घायल कर दिया और मुकदमे को वरीय पदाधिकारियों की मिलीभगत से रफा-दफा कर दिया। पीड़िता द्वारा दिए गए आवेदन को डीआईजी मुंगेर ने गंभीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष खोदावंदपुर को वांछित कानूनी कार्रवाई करने का निर्देश देते हुए अग्रेतर प्रतिवेदन समर्पित करने का आदेश दिया है। पीड़िता ने बताया है कि उसके पड़ोसी मो. किताबउद्दीन, मो. शाहनवाज, मो.इसराफिल, अंजुम आरा, अनीसा खातून और साद अख्तर सभी ने मिलकर घर में घुसकर जमकर पिटाई कर दी जिससे वो गंभीर रूप से घायल हो गई। मामले की जांच करने आए मंझौल पुलिस निरीक्षक ने दबंगों से कम्प्रमाईज करने की सलाह दी। पीड़िता ने डीआईजी को दिए आवेदन में बताया है कि कांड के मुख्य आरोपी को वरीय पुलिस पदाधिकारियों ने बचाया है। दबंगों के डर से वह गांव छोड़कर अपने नैहर छौड़ाही ओपी थाना क्षेत्र के सावंत गांव में रह रही है। अभियुक्त खुलेआम घूम रहे हैं और जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। इसकी शिकायत एसपी बेगूसराय और अनुमंडल के वरीय पुलिस पदाधिकारी से कई बार की लेकिन इस मामले में कोई सुनवाई नहीं हुई। पीड़िता ने इस पूरे मामले की जांच करने की मांग करते हुए डीआईजी मुंगेर से न्याय की गुहार लगाई है।