• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • राजभवन मार्च से रोका तो रालोसपा कार्यकर्ताओं व पुलिस में हुई झड़प
--Advertisement--

राजभवन मार्च से रोका तो रालोसपा कार्यकर्ताओं व पुलिस में हुई झड़प

Patna News - पटना|रालोसपा के राजभवन मार्च के दौरान सोमवार की दोपहर 12.30 से 1.30 तक डाकबंगला चौराहे पर परिचालन बंद रहा। इस कारण...

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2018, 02:05 AM IST
राजभवन मार्च से रोका तो रालोसपा कार्यकर्ताओं व पुलिस में हुई झड़प
पटना|रालोसपा के राजभवन मार्च के दौरान सोमवार की दोपहर 12.30 से 1.30 तक डाकबंगला चौराहे पर परिचालन बंद रहा। इस कारण फ्रेजर रोड, बेली रोड, न्यू डाकबंगला रोड में गाड़ियों की लंबी कतार लग गई। इस दौरान भीषण गर्मी में स्कूली बच्चों, मरीजों के साथ आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। जेपी गोलंबर से राजभवन के लिए निकले कार्यकर्ताओं को डाकबंगला चौराहे के पास पुलिस ने रोक दिया। लेकिन कार्यकर्ता आगे जाने की जिद पर अड़े हुए थे। इसके बाद पुलिस को हलका बल प्रयोग करना पड़ा। वहां लगभग 102 कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी दी। मालूम हो कि 10 अप्रैल को भारत बंद के दौरान रालोसपा नेता और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा के साथ बदसलूकी की गई थी। इसी के विरोध में कार्यकर्ताओं ने राजभवन मार्च निकाला था।

जालसाजी|ठगों ने खुद को बताया था दानापुर डीआरएम कार्यालय का एकाउंटेंट

रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर तीन युवकों से तीन लाख रुपए ठगे

क्राइम रिपोर्टर | पटना

दानापुर डीआरएम कार्यालय का अकाउंटेंट बताकर दो शातिरों ने तीन बेरोजगार युवकों से तकरीब तीन लाख रुपए की ठगी कर ली है। मामला तब सामने आया जब तीनों युवक ट्रेनिंग लेने के लिए सचिवालय हॉल्ट पहुंचे। ठगी के शिकार धनबाद के विवेक, उत्तरप्रदेश के प्रवीण और आसनसोल के कपिल से आरपीएफ की टीम पूछताछ कर रही है। तीनों ने पूछताछ में बताया कि उनके परिजनों से दिनेश और प्रदीप नाम के व्यक्ति की मुलाकात हुई थी। दोनों खुद को दानापुर डीआरएम ऑफिस का अकाउंटेंट बताता था। उसने पैसे लेकर गैंगमैन में नौकरी लगवा देने की बात कही थी। पैसे लेने के कुछ दिनों के बाद दोनों ने इन युवकों से कहा था कि 16 अप्रैल से तीनों की ट्रेनिंग सचिवालय हॉल्ट पर शुरू होगी। वहीं ज्वाइन करना है।

ट्रेनिंग की बात सुन भौंचक रहे गए कर्मी

तीनों एक साथ ही सचिवालय हॉल्ट पहुंचे और अधिकारियों को बताया कि उनकी ज्वाइनिंग है और ट्रेनिंग के लिए बुलाया गया है। मामला संदिग्ध प्रतीत होने पर पूर्व मध्य रेल के मुख्यालय को सूचना दी गई। इसके बाद मौके पर पहुंची आरपीएफ की टीम ने तीनों को हिरासत में ले लिया।

परिजनों से भी होगी पूछताछ

आरपीएफ ने स्पष्ट किया कि डीआरएम कार्यालय में दिनेश और प्रदीप नाम का कोई भी अकाउंटेंट नहीं है। इधर जांच में पता चला कि विवेक के भाई मुकेश ने दिनेश को पैसे दिए थे। उनके अभिभावकों से भी पूछताछ होगी।

दोनाली कट्टे के साथ बदमाश गिरफ्तार

पटना|कदमकुआं पुलिस ने दो नाली कट्टे के साथ बदमाश विशाल उर्फ लंगड़ी को गिरफ्तार किया। दरियापुर गोला रोड की गोबर टोली के विजय सिंह का बेटा विशाल कट्टा के साथ सोमवार की दोपहर कांग्रेस मैदान में किसी का इंतजार कर रहा था। इसकी सूचना थानेदार अजय कुमार को मिली और उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

पटना, मंगलवार, 17 अप्रैल, 2018 | 3

X
राजभवन मार्च से रोका तो रालोसपा कार्यकर्ताओं व पुलिस में हुई झड़प
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..