• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • Maharajganj News maharajganj nagar panchayat could not be cleared even after spending four and a half lakh rupees per month

प्रतिमाह साढ़े चार लाख रुपए खर्च के बाद भी साफ नहीं हो सकी महाराजगंज नगर पंचायत

Patna News - नगर पंचायत में जलजमाव की समस्या से लोगों को निजात नहीं मिल रहा है। हाल यह है कि शहरी क्षेत्र के कई इलाकों में...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:00 AM IST
Maharajganj News - maharajganj nagar panchayat could not be cleared even after spending four and a half lakh rupees per month
नगर पंचायत में जलजमाव की समस्या से लोगों को निजात नहीं मिल रहा है। हाल यह है कि शहरी क्षेत्र के कई इलाकों में सालोंभर जलजमाव की समस्या बनी रहती है। सड़कों पर नाले का पानी बहने से स्थिति और भी विकराल हो जाती है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत नगर पंचायत को स्वच्छ रखने के लिए नगर पंचायत प्रशासन को प्रति माह दस लाख रुपए का अनुदान मिलता है। इसमें नगर पंचायत प्रशासन एनजीओ के माध्यम से नगर पंचायत की साफ-सफाई के लिए 4 लाख 44 हजार 8 सौ 35 रुपए प्रति माह भुगतान करती है। 39 हजार रुपए टूल किट के नाम पर नगर पंचायत अपने पास रख लेती है। एनजीओ अपने 36 सफाईकर्मियों के सहारे नगर पंचायत को साफ व स्वच्छ रखने का दावा करता है। बावजूद नगर पंचायत स्वच्छ एवं साफ नहीं रहती। शहर में कूड़े का अंबार है। नालियां कीचड़ से भरी व नालियाें का पानी सड़क पर बहता है। अगर बारिश हो गई तो सारा पानी लोगों के घरों में चला जाता है।

मोहन बाजार में सड़क पर बहता नाले का पानी

सिटी रिपोर्टर| महाराजगंज

नगर पंचायत में जलजमाव की समस्या से लोगों को निजात नहीं मिल रहा है। हाल यह है कि शहरी क्षेत्र के कई इलाकों में सालोंभर जलजमाव की समस्या बनी रहती है। सड़कों पर नाले का पानी बहने से स्थिति और भी विकराल हो जाती है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत नगर पंचायत को स्वच्छ रखने के लिए नगर पंचायत प्रशासन को प्रति माह दस लाख रुपए का अनुदान मिलता है। इसमें नगर पंचायत प्रशासन एनजीओ के माध्यम से नगर पंचायत की साफ-सफाई के लिए 4 लाख 44 हजार 8 सौ 35 रुपए प्रति माह भुगतान करती है। 39 हजार रुपए टूल किट के नाम पर नगर पंचायत अपने पास रख लेती है। एनजीओ अपने 36 सफाईकर्मियों के सहारे नगर पंचायत को साफ व स्वच्छ रखने का दावा करता है। बावजूद नगर पंचायत स्वच्छ एवं साफ नहीं रहती। शहर में कूड़े का अंबार है। नालियां कीचड़ से भरी व नालियाें का पानी सड़क पर बहता है। अगर बारिश हो गई तो सारा पानी लोगों के घरों में चला जाता है।

मुहल्ले के लोगों को रहने में होने लगी परेशानी

शहर के वार्ड संख्या पांच मोहन बाजार में रहनेवाले लोगों के साथ राहगीर खास कर महिलाएं एवं बच्चों को ज्यादा परेशानी होती है। सड़क किनारे बने नाले का पानी का जमाव होने से मांझी बरौली पथ पर आने-जाने में काफी कठिनाई होती है। स्थानीय लोगों का कहना है कि नगर पंचायत प्रशासन की उदासीनता के कारण सड़क पर फैले नाले के पानी से दुर्गंध निकलता है। इससे लोगों का जीना दूभर हो गया है। कुछ दिनों पर मशीन से पानी की निकासी तो होती है लेकिन यह नाकाफी है।

X
Maharajganj News - maharajganj nagar panchayat could not be cleared even after spending four and a half lakh rupees per month
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना