पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सरपंच के साथ सीए की अभद्रता को लेकर माले ने शुरू किया अनिश्चितकालीन धरना

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
माले ने मैरवा के अंचलाधिकारी द्वारा सरपंच के साथ अभद्रता किए जाने पर गुरुवार को प्रखंड परिसर में अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया। माले नेताओं का कहना था कि सीओ अरविंद प्रसाद द्वारा इंग्लिश पंचायत के सरपंच संदीप कानू के साथ अभद्रता किया गया जो कि घोर निंदनीय है। सरपंच संदीप कानू अंचलाधिकारी से उनके कर्मचारी के घूस मांगने की शिकायत करने आए थे।

लेकिन अंचलाधिकारी ने शिकायत सुनने की बजाय उल्टा ही उनको अपशब्दों का इस्तेमाल करते हुए चोर तथा बदमाश कहते हुए कार्यालय से जाने को कहा। जबकि कर्मचारी द्वारा जमीन के पर्चे की रसीद के लिए 25 हजार रुपए की मांग की जा रही है। इस मामले में कर्मचारी की अंचलाधिकारी से मिलीभगत है। जबकि अंचलाधिकारी ने इन आरोपों को गलत तथा बेबुनियाद बताया। धरने में माले के जिलापरिषद सदस्य उपेंद्र गोंड, मुकेश कुमार, जयराम यादव, अजय चौहान, बडू सिंह, पाना देवी, रंगिया देवी सहित दर्जनों कार्यकर्ता शामिल थे।

इस मामले को लेकर जब सरपंच संदीप कानू अंचलाधिकारी से मिलने आए तो अंचलाधिकारी द्वारा अपशब्दों का इस्तेमाल करते हुए चैम्बर से भाग जाने को कहा गया। अंचलाधिकारी के व्यवहार के खिलाफ माले ने प्रखंड मुख्यालय पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया।

धरना पर बैठे माले कार्यकर्ता।

पहले ही 2 हजार रुपए लिए फर मांग रहे रुपए
माले नेताओं का कहना है कि मैरवा के इंग्लिश पंचायत के खैरा निवासी फूलमती देवी, पाना देवी, गांगिया देवी, सैरून खातून, लाचो कुंवर आदि ने जमीन के पट्टे के लिए आवेदन दिया है। इसको लेकर कर्मचारी राम अवध भगत द्वारा पैसे की मांग की जा रही है। इसके लिए कर्मचारी ने पहले ही 2 हजार रुपए सबसे ले लिया है। अब और 32 सौ रुपए की मांग कर रहा है। माले नेता उपेंद्र गोंड का कहना था कि अंचलाधिकारी द्वारा किसी भी मामले को हल्के किए जाने की बजाय उसे लंबित रखा जा रहा है, जिससे उसका आर्थिक शोषण किया जा सके। पट्टे की रसीद देने के लिए अंचलाधिकारी की मिली भगत से रामअवध भगत नाम का कर्मचारी गरीब तथा असहाय मजदूरों से 25 हजार रुपए की मांग कर रहा है। इतना है नहीं उसने दो दो हजार रुपये की अग्रिम राशि ले भी लिया है। जब रसीद मांगने पीड़ित पहुंच रहे हैं तो उनसे 3200 रुपए की और मांग कर रहा है।

सिटी रिपोर्टर| मैरवा

माले ने मैरवा के अंचलाधिकारी द्वारा सरपंच के साथ अभद्रता किए जाने पर गुरुवार को प्रखंड परिसर में अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया। माले नेताओं का कहना था कि सीओ अरविंद प्रसाद द्वारा इंग्लिश पंचायत के सरपंच संदीप कानू के साथ अभद्रता किया गया जो कि घोर निंदनीय है। सरपंच संदीप कानू अंचलाधिकारी से उनके कर्मचारी के घूस मांगने की शिकायत करने आए थे।

लेकिन अंचलाधिकारी ने शिकायत सुनने की बजाय उल्टा ही उनको अपशब्दों का इस्तेमाल करते हुए चोर तथा बदमाश कहते हुए कार्यालय से जाने को कहा। जबकि कर्मचारी द्वारा जमीन के पर्चे की रसीद के लिए 25 हजार रुपए की मांग की जा रही है। इस मामले में कर्मचारी की अंचलाधिकारी से मिलीभगत है। जबकि अंचलाधिकारी ने इन आरोपों को गलत तथा बेबुनियाद बताया। धरने में माले के जिलापरिषद सदस्य उपेंद्र गोंड, मुकेश कुमार, जयराम यादव, अजय चौहान, बडू सिंह, पाना देवी, रंगिया देवी सहित दर्जनों कार्यकर्ता शामिल थे।

इस मामले को लेकर जब सरपंच संदीप कानू अंचलाधिकारी से मिलने आए तो अंचलाधिकारी द्वारा अपशब्दों का इस्तेमाल करते हुए चैम्बर से भाग जाने को कहा गया। अंचलाधिकारी के व्यवहार के खिलाफ माले ने प्रखंड मुख्यालय पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया।

खबरें और भी हैं...