बिहार / विधायक के घर एके-47 की जांच के लिए एनआईए को पत्र; अनंत की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी



MLA Anant first accused in new UAP Act in Bihar
MLA Anant first accused in new UAP Act in Bihar
MLA Anant first accused in new UAP Act in Bihar
X
MLA Anant first accused in new UAP Act in Bihar
MLA Anant first accused in new UAP Act in Bihar
MLA Anant first accused in new UAP Act in Bihar

  • एमएलए के घर से एके-47, ग्रेनेड और गोलियां मिलने के मामले में कार्रवाई
  • अनंत के घर से बरामद एके-47 के पार्ट्स असली, पर सीरियल नंबर अलग-अलग
  • घर में मौजूद लोगों ने बताया- शाम को ही अनंत वकील से मिलने की बात कहकर निकल गए

Dainik Bhaskar

Aug 18, 2019, 04:09 PM IST

पटना/बाढ़. बिहार के मोकामा से निर्दलीय विधायक अनंत सिंह की तलाश में दूसरे दिन भी पुलिस ने छापे मारे। रविवार को बिहार पुलिस मुख्यालय ने एमएलए के घर एके-47, ग्रेनेड और गोलियां मिलने के मामले की जांच के लिए एनआईए को पत्र लिखा है। केयरटेकर सुनील को पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है। सूत्रों के मुताबिक सुनील से पुलिस को काफी अहम जानकारी मिली है। सरकारी आवास पर अनंत सिंह की पत्नी नीलम देवी और कई अन्य लोगों से पूछताछ की जा रही है। सभी को फोन सीज कर लिया गया है। अनंत सिंह के घर आने-जाने पर रोक लगा दी गई है।

 

इससे पहले पुलिस ने विधायक की गिरफ्तारी के लिए शनिवार की देर रात करीब डेढ़ बजे उनके पटना स्थित सरकारी आवास पर छापेमारी की। पुलिस रातभर अनंत सिंह के आवास को खंगालती रही लेकिन विधायक अपने आवास पर नहीं मिले। बताया जा रहा है कि अनंत सिंह फरार हो गए हैं।

 

मिलिट्री इंटेलिजेंस समेत कई एजेंसियों के घेरे में विधायक 
विधायक की गिरफ्तारी तय है पर पुलिस फुल प्रूफ तैयारी के बाद ही विधायक को गिरफ्तार करेगी। पुलिस चाहती तो केयरटेकर के साथ उन्हें भी गिरफ्तार कर लेती। लेकिन कोर्ट से वारंट मिलने का इंतजार है। बहरहाल, हैंड ग्रेनेड व एके-47 बरामद होने के बाद सेना के भी कान खड़े हो गए हैं। इसकी जांच के लिए मिलिट्री इंटेलिजेंस के अधिकारी भी लदमा पहुंचे थे। बिहार पुलिस के साथ ही एटीएस और एसटीएफ तो मामले की जांच कर ही रही है। आने वाले दिनों में एनआईए भी जांच कर सकती है।


विधायक के पैतृक घर के केयरटेकर को भेजा जेल 
पुलिस ने विधायक के जिस पुश्तैनी मकान से हथियार व ग्रेनेड बरामद किए गए, उस मकान के केयरटेकर सुनील राम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस ने लदमा गांव के सुनील को शुक्रवार को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था। बाढ़ थाना में दर्ज केस में विधायक अनंत सिंह के साथ सुनील काे भी नामजद किया गया है। इधर, कोर्ट से अनुमति मिलने के बाद एटीएस ने मौके पर पहुंचकर दोनों ग्रेनेड को निष्क्रिय कर दिया।

 

एके-47 के पार्ट्स असली, पर सीरियल नंबर अलग

विधायक अनंत सिंह के बाढ़ के नदवां स्थित घर से एके 47 और एचई 36 हैंड ग्रेनेड बरामद होने के बाद मिलिट्री इंटेलिजेंस की टीम भी जांच में जुट गई है। दानापुर स्थित मिलिट्री इंटेलिजेंस के अधिकारी यह पता लगाने में जुट गए हैं कि बरामद एके 47 और ग्रेनेड सेना या ऑर्डनेन्स डिपो के तो नहीं हैं? अधिकारियों ने जांच में पाया कि एके 47 के सभी पार्ट्स असली हैं।

 

लेकिन बॉडी, रोटेटिंग बोल्ट और पिस्टन पर अलग-अलग सीरियल नंबर दर्ज हैं। इससे आशंका जताई जा रही है कि ऑर्डनेन्स डिपो से अलग-अलग चुराए गए पार्ट्स को इकठ्ठा कर एके 47 को तैयार किया गया। मिलिट्री इंटेलिजेंस के अधिकारी पार्ट्स के सीरियल नंबर को विभिन्न ऑर्डनेन्स डिपो से मिलान कर यह पता लगाने में जुट गए हैं कि कौन कहां से लाया गया। वहीं विधायक के घर से बरामद हैंड ग्रेनेड पर अंकित सीरियल नंबर की भी जांच की जाएगी।


उग्रवादी से आतंकी तक के तार की तफ्तीश की जा रही 
विधायक के घर से जो हथियार व ग्रेनेड मिले हैं, उसे आम लोगों के रखने पर रोक है। सेना या पुलिस ही रख सकते हैं। पुलिस इस मामले में विधायक के तार को आतंकी व उग्रवादियों से जोड़कर भी जांच करने में जुटी है। पुलिस इस बात की तफ्तीश करने में जुटी है है कि आखिर एके-47 व ग्रेनेड विधायक के पास कहां से आए। किसने उन्हें लाकर दिया। कौन वो लोग हैं जिनसे विधायक का संबंध है। पुलिस काे इस बात की जानकारी मिली है कि अभी बाढ़, मोकामा, बेलछी में और भी एके-47, पुलिस का रायफल, एलएमजी समेत अन्य हथियार हैं। पुलिस इन हथियारों के जखीरे को बरामद करने के लिए छापेमारी करने में जुटी है।


पुलिस को वारंट लेने की जरूरत नहीं 
पटना हाईकोर्ट के वकील प्रभात भारद्वाज ने बताया जिन धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया उसमें पुलिस को विधायक या किसी को गिरफ्तार करने के लिए कोर्ट से वारंट लेने की जरूरत नहीं है। पुलिस चाहे तो विधायक को गिरफ्तार कर सकती है। हो सकता है कि मामला विधायक से जुड़ा है और आरोप-प्रत्यारोप की भी बात सामने आई इसलिए पुलिस गिरफ्तारी वारंट के लिए कोर्ट गई। कोर्ट से गिरफ्तारी वारंट मिल जाने की उम्मीद है। एसएसपी गरिमा मलिक ने कहा कि पुलिस ने कोर्ट में वारंट के लिए आवेदन दिया है।


एक किमी दूर ले गए हैंड ग्रेनेड 
विधायक अनंत सिंह के घर में छापेमारी के दौरान बरामद दोनों हैंड ग्रेनेड को एटीएस के बम निरोधक दस्ते द्वारा शनिवार को टाल एरिया की तरफ ले जाकर निष्क्रिय कर दिया गया। एनटीपीसी थानाध्यक्ष अमरदीप कुमार भी मौके पर मौजूद थे। उन्होंने बताया बम निरोधक दस्ते ने एक बोरी में पहले बालू डाला और फिर बम को उसी में रखकर सूमो से लदमा गांव से करीब एक किलोमीटर दूर ग्वार धनवा जाने वाली सड़क के किनारे ले गए। वहां फ्यूज निकाल कर डिफ्यूज कर दिया गया।


अनंत पर 50 से ज्यादा मामले 
विधायक अनंत सिंह पर बिहार-झारखंड के थानों में 53 आपराधिक मामले दर्ज हैं। इनमें हत्या, हत्या का प्रयास, हत्या के लिए अपहरण, आर्म्स एक्ट और विस्फोटक अधिनियम जैसे संगीन मामले भी शामिल हैं। सबसे ज्यादा मामले बाढ़ थाने में दर्ज हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना