नीतीश ने कहा- पूरे बिहार में चलेगा जल, जीवन और हरियाली अभियान

Patna News - पूरे बिहार में जल, जीवन और हरियाली अभियान चलाया जाएगा। यह घोषणा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा के विस्तारित...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:30 AM IST
Patna News - nitish said water life and green expedition will be run throughout bihar
पूरे बिहार में जल, जीवन और हरियाली अभियान चलाया जाएगा। यह घोषणा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विधानसभा के विस्तारित भवन के सेंट्रल हॉल में राज्य में जलवायु परिवर्तन से उत्पन्न आपदाजनक स्थिति पर विमर्श के दौरान की। उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन से वर्षापात में गिरावट, भूजल स्तर में गिरावट, पेयजल संकट, सूखे की स्थिति, बाढ़ की स्थिति जैसी कई अनेक समस्याएं उत्पन्न हो रही है। सभी जनप्रतिनिधियों को अपने क्षेत्र में लोगों को पर्यावरण के बारे में जागरुक करना चाहिए, उनसे पर्यावरण संबंधी बातों पर चर्चा करने से लोगों में इसके प्रति जागृति आएगी। सीएम ने बताया कि ग्रीन गैस प्रभाव के कारण तापमान बढ़ा है, जिससे जलवायु में परिवर्तन आया है। वाहनों की बढ़ती संख्या, कारखानों के उपयोग, विकास के बदलते पैमाने जैसे अन्य कारकों से वातावरण में प्रदूषण बढ़ा है। पहले यहां वर्षापात 1200-1500 मिमी होती थी लेकिन पिछले 30 वर्ष के औसत आंकलन के आधार पर 1000 मिमी वर्षा हुई है। पिछले 13 वर्षों से यहां औसत वर्षा 778 मिमी ही हुई है। वर्षापात में लगातार गिरावट खतरनाक संकेत है। हमलोग अक्षय ऊर्जा यानि सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए काम कर रहे हैं। सभी सरकारी दफ्तरों के छतों पर सौर प्लेट लगाने की योजना है। भू-जल का स्तर गिरता जा रहा है। औसतन 2 से 7 फीट जलस्तर में गिरावट आयी है। रेनवाटर हार्वेस्टिंग के लिए काम किया जाएगा। राज्य का हरित आवरण क्षेत्र बढ़ाने के लिये प्रयास किए जा रहे हैं। 22 करोड़ पौधे लगाए गए हैं। हरित आवरण क्षेत्र 17 प्रतिशत तक करने का लक्ष्य है।

विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने कहा है कि हम जल संकट को लेकर बड़े खतरे के दरवाजे पर खड़े हैं और यदि आज सचेत नहीं हुए तो आने वाली पीढ़ी के साथ न्याय नहीं कर पाएंगे। विलंब तो हो चुका है लेकिन अभी भी हमारे पास समय है, पर जल संरक्षण को लेकर हम बहुत कुछ कर सकते हैं। आज हम जल संरक्षण की स्थिति में हैं। ऐसा नहीं किया तो कल बहुत बड़े संकट को खुद ही आमंत्रित कर लेंगे। हम ऐसा पर्यावरण बनाएं जिससे आने वाली संततियां सुरक्षित हो सकें। विधानपरिषद के कार्यकारी सभापति हारुण रशीद ने कहा कि हम यदि इस संकट को लेकर गंभीर हुए तो हम इससे न केवल लड़ सकते हैं बल्कि प्रभावी रूप से जीत भी हासिल कर सकते हैं। जनप्रतिनिधि जागरुकता फैलाकर इस संकट को दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। कार्यक्रम में ग्लोबल वार्मिंग पर एक लघु फिल्म दिखायी गई।

विधानसभा के सेंट्रल हॉल में राज्य में जलवायु परिवर्तन से उत्पन्न आपदाजनक स्थिति पर विमर्श के दौरान मौजूद सदस्य।

वन महोत्सव के दौरान लगाए जाएंगे राज्य में 1.75 करोड़ पौधे

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि बिहार में 1 से 15 अगस्त के बीच ‘वन महोत्सव’ का आयोजन कर 1.75 करोड़ पौधे लगाए जाएंगे। इस दौरान ग्रामीण विकास विभाग मनरेगा के तहत 50 लाख व वन विभाग अपनी विभिन्न योजनाओं के तहत 1.25 करोड़ पौधारोपण करेगा। जितने भी पौधे लगाए जाएंगे वे 4 फीट लंबे और 2 वर्ष पुराने होंगे। शहरी क्षेत्रों में गैबियन के बीच पौधे लगाए जाएंगे तथा बाद में भी उनकी देखरेख व पानी देने की व्यवस्था की जाएगी। मोदी ने कहा कि जलवायु परिवर्तन का सर्वाधिक असर गरीबों, महिलाओं व कृषि प्रक्षेत्र पर पड़ रहा है। भारत सरकार के निर्देश पर जलवायु परिवर्तन के मद्देनजर राज्य कार्ययोजना तैयार की जा रही है। वन विभाग ने निर्णय लिया है कि सड़क व अन्य निर्माण के दौरान अब कोई पेड़ काटा नहीं जाएगा। पटना के सगुना मोड़ के पास एक एजेंसी के माध्यम से पेड़ों के प्रत्यारोपण का प्रयोग किया जा रहा है। राज्य सरकार ने पहले ही सभी जलस्रोतों को चिन्हित कर उनके पुनर्स्थापना और उड़ाही का निर्णय लिया है।

इन्होंने भी रखी अपनी बात | सदानंद सिंह, जीतनराम मांझी, अब्दुल बारी सिद्दिकी, रामचन्द्र पूर्वे, शिवचन्द्र राम, संजीव श्याम सिंह, नेमतुल्लाह, विजयशंकर दूबे, संजय सरावगी, डॉ. रंजू गीता, डॉ. अब्दुल कफूर, सुदामा प्रसाद, रजनीश कुमार, शक्ति सिंह यादव, उमेश कुशवाहा, भोला यादव, महेश्वर यादव, आलोक मेहता, शकील अहमद, लालबाबू राय, प्रह्लाद यादव, मुनेश्वर चौधरी, समीर महासेठ, राहुल तिवारी, कृष्ण कुमार सिंह, नितिन नवीन, रामानंद यादव आदि।

ये थे मौजूद |पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव, ऊर्जामंत्री बिजेन्द्र यादव, कृषि मंत्री प्रेम कुमार, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, पीआरडी मंत्री नीरज कुमार, जल संसाधन मंत्री संजय झा, राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामनारायण मंडल, पीएचईडी मंत्री विनोद नारायण झा, नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा, मुख्य सचिव दीपक प्रसाद, विकास आयुक्त सुभाष शर्मा, अपर मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह, प्रत्यय अमृत, दीपक कुमार सिंह।

क्यों परेशानी









क्या-क्या सुझाव








X
Patna News - nitish said water life and green expedition will be run throughout bihar
COMMENT