विज्ञान के विकास में नॉन लीनियर डायनामिक्स स्कूल का योगदान अहम

Patna News - अाईअाईटी पटना में मंगलवार से एसईआरबी नॉन लीनियर डायनामिक्स स्कूल की शुरुआत हुई। स्कूल के निदेशक प्रो. उत्पल रॉय...

Dec 04, 2019, 08:46 AM IST
Patna News - non linear dynamics school39s contribution in the development of science
अाईअाईटी पटना में मंगलवार से एसईआरबी नॉन लीनियर डायनामिक्स स्कूल की शुरुआत हुई। स्कूल के निदेशक प्रो. उत्पल रॉय ने बताया कि यह सम्मेलन इस क्षेत्र में अपनी तरह का पहला कार्यक्रम है। इसमें भाग लेने वाले वक्ताओं में देश के सबसे बड़े शिक्षक और शोधकर्ता रहे हैं। विज्ञान और प्रौद्योगिकी के वर्तमान विकास में स्कूल का विषय महत्वपूर्ण है। प्रायोगिक स्थितियों में अधिकांश भौतिक प्रणालियां नॉन लीनियर हो जाती हैं जिन्हें संभालना बहुत कठिन नहीं है। इसलिए भविष्य की पीढ़ी के लिए उपयोगी तकनीकी अनुप्रयोगों, जैसे क्वांटम कम्प्यूटेशन, सुरक्षा, मैकेनिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग आदि को प्राप्त करने के लिए नॉन लीनियर डायनेमिक्स का उचित ज्ञान आवश्यक है।

मंगलवार को उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि भारतीदासन विश्वविद्यालय के प्रो. एम.लक्ष्मणन और बीएआरसी मुंबई के प्रो. सुधीर आर. जैन थे। ये दोनों 2004 के बाद इस तरह के सभी स्कूलों का एक हिस्सा रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्कूल में शामिल किए जाने वाले विषय अभिकलन और सुरक्षा से संबंधित भविष्य की तकनीक पर महत्वपूर्ण प्रभाव से जुड़ा है। यह नॉन लीनियर डायनामिक्स के व्यापक और समकालीन क्षेत्रों में प्रमुख कार्यक्रम है। 31 दिसंबर तक यह स्कूल चलेगा। इसमें नॉन लीनियर डायनामिक्स के बुनियादी क्षेत्रों पर व्याख्यान होंगे। एडवांस्ड कोर्स में डायनामिक्स ऑफ नॉनलीनियर और क्वांटम ऑप्टिक्सए क्लाइमेट साइंस एंड सस्टनेबिलिटी और नॉन लीनियर मैटर वेव एंड क्वांटम टेक्नोलॉजी शामिल हैं। इस कार्यक्रम में हैंड्स ऑन एक्सपेरिमेन्ट, शोध और शिक्षण प्रयोगशालाओं का दौरा भी शामिल है। प्रतिभागियों को पोस्टर, लघु मौखिक प्रस्तुतियां देने के लिए प्रोत्साहित भी किया जाएगा। इस कार्यक्रम में आईआईटी बीएचयू, आईआईएसईआर, पटना विश्वविद्यालय सहित कई संस्थानों के छात्र शामिल हो रहे हैं।

X
Patna News - non linear dynamics school39s contribution in the development of science
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना