पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Objectionable Photo Of Girl Student On Admit Card In Bihar

एडमिट कार्ड पर गर्ल स्टूडेंट का अश्लील फोटो, परीक्षा विभाग सवालों के घेरे में

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

दरभंगा (बिहार). एलएनएमयू की चल रही स्नातक तृतीय खंड की परीक्षा शुरू से ही विवादों के घेरे में रही है। एडमिट कार्ड में छात्रा की जगह अश्लील फोटो अपलोड होने का मामला हो या फिर प्रश्नपत्र नहीं छपने के कारण होम साइंस आॅनर्स के सातवें पत्र की परीक्षा रद्द होने का मामला, परीक्षा विभाग सवालों के घेरे में है। यूं तो परीक्षा विभाग की नाकामियों की फेहरिस्त काफी लंबी हैं, लेकिन हाल के इन दो मामलों ने ही विभाग की कार्यप्रणाली की पोल खोल कर रख दी है।

 

- एक तरफ विश्वविद्यालय में शैक्षणिक सुधार को लेकर कई नए प्रयोग किए जा रहे हैं, वहीं दूसरी ओर परीक्षा विभाग लगातार अपनी विफलताओं को लेकर चर्चा में है।

- परीक्षा विभाग की कार्यशैली को लेकर आए दिन विवि प्रशासन को छात्रों के आक्रोश का सामना करना पड़ रहा है।

- जब भी कोई मामला सामने आता है तो उसे दुरुस्त करने में परीक्षा विभाग जुट जाता है, लेकिन हालात ऐसे हैं कि एक मामला सलटता नहीं कि दूसरा सामने आ जाता है।

- ऐेसे में विवि के जानकारों का कहना है कि परीक्षा विभाग में भारी फेरबदल की जरूरत है। 

 

अश्लील फोटो मामले में अब तक कार्रवाई नहीं

- यह मामला परीक्षा शुरू होने से पहले ही सामने आ चुका है लेकिन अब तक इसमें कार्रवाई कुछ नहीं हो सकी।

- मामला यह है कि एसएमजे कॉलेज खाजेडीह की एक छात्रा (रौल नंबर-163190100780) ने परीक्षा फार्म ऑनलाइन भरा जिसमें उसने अपना फोटो अपलोड किया।

- फार्म भरने के बाद उसने प्रिंटआउट निकाला तो उस पर उसकी फोटो छपी।

- विश्वविद्यालय ने जब उसका एडमिट कार्ड नेट पर डाला और छात्रा ने जब उसे डाउनलोड किया तो उसमें उसकी जगह एक अश्लील तस्वीर छपी मिली।

- मामला समाने आने के बाद परीक्षा विभाग हरकत में आया और तत्काल एडमिट कार्ड से उस आपत्तिजनक फोटो को हटा लिया गया लेकिन छात्रा की वास्तविक तस्वीर अपलोड नहीं की गई।  

 

परीक्षा के दिन तक नहीं छप पाया प्रश्न पत्र 

- होम साइंस सातवें पत्र के मामले में तो परीक्षा विभाग ने हद ही कर दी। परीक्षा दूसरी पाली में होनी थी।

- तेज धूप मेें छात्र अपने परीक्षा केन्द्रों तक पहुंच गए, तब जाकर परीक्षा विभाग को पता चला कि जिस पत्र की परीक्षा है उसका तो प्रश्न पत्र ही नहीं छपा।

- आनन-फानन में परीक्षा को रद्द कर दिया गया और छात्रों को परीक्षा केन्द्रों से बैरंग वापस लौटा दिया गया। आखिरकार छात्रों को हुई परेशानी के लिए जिम्मेवार कौन है।

- अब विवि प्रशासन इसकी पड़ताल में जुट गया है कि आखिर लापरवाही किस स्तर पर हुई।  

 

निजी एजेंसी पर है जिम्मेदारी

- एडमिट कार्ड पर छात्रा के बदले अश्लील फोटो मामले में जिम्मेवारी निजी एजेंसी की बनती है जो विश्वविद्यालय के परीक्षा संबंधी ऑनलाइन कार्यों को करता है।

- फाॅर्म जमा करने के बाद जो प्रिंटआउट निकला उसपर छात्रा की तस्वीर थी, मतलब गड़बड़ी साइबर कैफे के स्तर से नहीं हुई।

- एडमिट कार्ड तैयार करना और वेबसाइट पर अपलोड करना एजेंसी का काम था। हालांकि एजेंसी के प्रतिनिधि सत्यम का कहना है कि गड़बड़ी कैसे हुई इसका पता लगाया जा रहा है।

 

परीक्षा नियंत्रक कुलानन्द यादव से सीधी बात

सवाल : अश्लील फोटो मामले में क्या कार्रवाई हुई।
जवाब : एजेंसी से जवाब मांगा गया है। मामला गंभीर है। बीच में मैं कोर्ट के काम से राज्य से बाहर था। एजेंसी के जवाब को देखेंगे और कार्रवाई करेंगे।
सवाल : आखिर इस मामले में दोषी कौन है।
जवाब : छात्रा की ओर से कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है। हालांकि ऐसे कुछ और मामले संज्ञान में आए हैं। जो भी दोषी होंगे उन पर कार्रवाई होगी।
सवाल : परीक्षा के दिन तक प्रश्न पत्र आखिर छपा क्यों नहीं।
जवाब : मामले की जांच के लिए कमेटी बनी है जो उन कारणों की तलाश करेगी।
सवाल : छात्र परीक्षा केंद्र से वापस लौटे, इसका जिम्मेवार कौन है।
जवाब : यह सच है कि छात्रों को परेशानी हुई है। हम जवाबदेही लेते हैं। जांच में जो दोषी पाए जाएंगे उन पर कार्रवाई तय है।
सवाल : नकल के मामले भी सामने आ रहे हैं।
जवाब : परीक्षा की लगातार मॉनिटरिंग जारी है। जहां से भी शिकायत मिल रही है वहां अधिकारी पहुंच रहे हैं।

 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि वालों से अनुरोध है कि आज बाहरी गतिविधियों को स्थगित करके घर पर ही अपनी वित्तीय योजनाओं संबंधी कार्यों पर ध्यान केंद्रित रखें। आपके कार्य संपन्न होंगे। घर में भी एक खुशनुमा माहौल बना ...

और पढ़ें