--Advertisement--

निर्देश / असंतोषजनक पढ़ाने वाले शिक्षकों के एक वेतन वृद्धि पर रोक



Order to stop salary increment of unsatisfied teachers in Bihar
X
Order to stop salary increment of unsatisfied teachers in Bihar

  • प्रधान सचिव ने डीपीओ को बैठक में दिया निर्देश
  • निगरानी जांच में फर्जी सर्टिफिकेट वाले शिक्षकों पर होगी कार्रवाई

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2018, 07:49 PM IST

पटना. पढ़ाने में कमजोर शिक्षकों का एक वेतन वृद्धि पर रोक लगेगी। प्राथमिक से लेकर उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में औचक निरीक्षण के दौरान अध्यापन कार्य में असंतोषजनक पाए गए शिक्षकों पर कार्रवाई होगी। स्कूल निरीक्षण के दौरान अनधिकृत रूप से अनुपस्थित पाये गए शिक्षकों का वेतन भुगतान नहीं होगा। 

 

शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव का आदेश
निगरानी जांच में फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर नियोजित शिक्षकों का वेतन भुगतान नहीं हो, यह डीपीओ को सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है। शुक्रवार को शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव आरके महाजन ने शुक्रवार को डीपीओ (स्थापना) की बैठक में निर्देश दिया।

 

19 जिलों के जिला शिक्षा पदाधिकारियों से मांगा स्पष्टीकरण
निर्धारित संख्या में माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक स्कूलों का औचक निरीक्षण नहीं करने वाले 19 जिलों के जिला शिक्षा पदाधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा गया है। शिक्षा विभाग के प्रवक्ता अमित कुमार ने बताया कि प्रधान सचिव ने उपलब्ध आवंटन के तहत नियोजित शिक्षकों को वेतन का भुगतान दुर्गापूजा के पूर्व करने का निर्देश दिया है। पंचायतीराज संस्थान और नगर निकाय संस्थान के तहत कार्यरत नियोजित शिक्षकों के नियोजन की जांच प्रगति की समीक्षा की गई।

 

प्रधान सचिव ने कहा कि विभाग द्वारा निर्धारित औचक निरीक्षण कार्यक्रम का प्रभावी कार्यान्वयन और निरीक्षण के बाद अपेक्षित कार्रवाई सुनिश्चित करें। बैठक में प्राथमिक शिक्षा निदेशक अरविंद कुमार वर्मा ने लंबित कोर्ट केस मामले का प्राथमिकता के आधार पर निष्पादन का निर्देश दिया। बैठक में विभाग के अधिकारियों के साथ ही सभी डीपीओ (स्थापना) मौजूद थे।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..