--Advertisement--

राजनीति / मोदी के मंत्री उपेंद्र कुशवाहा बोले-भाजपा और लोजपा से हमारा गठबंधन, जदयू से नहीं



पत्रकारों से बात करते रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा पत्रकारों से बात करते रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा
X
पत्रकारों से बात करते रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहापत्रकारों से बात करते रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा
  • कुशवाहा ने कहा कि लालू इतिहास हो चुके हैं और तेजस्वी अभी ट्रेनी हैं
  • पिछली बार मिली थी 3 सीट, अब ताकत बढ़ी है तो अधिक मिले
  • 28 नवंबर को रालोसपा मनाएगी ऊंच-नीच मानसिकता विरोध दिवस

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 06:00 PM IST

पटना. रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने जदयू पर हमला किया है। उन्होंने कहा कि आज की तारीख में रालोसपा का भाजपा और लोजपा के साथ गठबंधन है, लेकिन जदयू से नहीं। 2014 की तुलना में रालोसपा की ताकत बढ़ी है, इसलिए लोकसभा चुनाव के लिए तीन से अधिक सीट मिलनी चाहिए।

 

लालू इतिहास, तेजस्वी ट्रेनी: लालू यादव और नीतीश कुमार में कौन बड़े जनाधार वाले नेता हैं? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि लालू इतिहास हो चुके हैं। वे चुनाव नहीं लड़ सकते। तेजस्वी के सवाल पर कहा-वे अभी ट्रेनी राजनीतिज्ञ हैं। उनकी परीक्षा अभी बाकी है। जैसा ट्रेनिंग लेंगे, तैयारी करेंगे तब सफलता या असफलता का आकलन होगा। 

रालोसपा एनडीए का हिस्सा और आगे भी रहेगी: कुशवाहा ने कहा कि रालोसपा की प्रतिबद्धता भाजपा के साथ है। जदयू एनडीए का हिस्सा बाद में बनी है। क्या भाजपा और जदयू चाहते हैं रालोसपा एनडीए से बाहर हो जाए? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि पिछले दिनों दिल्ली में अमित शाह और नीतीश कुमार ने पीसी में कहा था कि दो-तीन दिनों में सीट की घोषणा हो जाएगी। एनडीए को रालोसपा की जरूरत नहीं होती तो फिर सीट की घोषणा अब तक क्यों नहीं हो पायी है?

 

ऊंच-नीच मानसिकता विरोध दिवस मनाएगी रालोसपा: रालोसपा अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि राज्य में शिक्षा व्यवस्था खराब है। ऐसे शिक्षक भी बहाल हो गए हैं, जो गुणवत्तापूर्ण शिक्षा नहीं दे पा रहे हैं। ऐसे शिक्षकों को सरकार पढ़ाने की जिम्मेदारी से मुक्त कर दूसरे विभाग में भेज दे। शिक्षा सुधार पार्टी के अभियान की कड़ी में 28 नवंबर को महात्मा फुले की पुण्यतिथि पर पूरे राज्य में शिक्षा सुधार जन-जन का अधिकार अभियान शुरू होगा। 28 नवंबर को जिला मुख्यालयों पर पार्टी ऊंच-नीच मानसिकता विरोध दिवस भी मनाएगी।

 

'हम बासी भात नहीं खाते': क्या राज्य मंत्रिमंडल विस्तार में रालोसपा शामिल होगी? इस सवाल पर उपेंद्र बोले- हम बासी भात नहीं खाते। जब सत्ता में हिस्सेदारी मिलनी थी, तब नहीं मिली। अब रालोसपा की राज्य मंत्रिमंडल में शामिल होने में रूचि नहीं है।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..