--Advertisement--

10 दिन से बंधक बनाकर रखे गए उपेन बरामद, गूगल मैप की मदद से पहुंची पुलिस

पटना पुलिस ने गूगल मैप की सहायता से पिछले 10 दिन से बंधक बनाकर रखे गए उपेन घोष को बरामद कर लिया।

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 02:58 PM IST
अरुण उपेन को पीटता था। उपेन के शरीर पर चोट के कई निशान मिले हैं। अरुण उपेन को पीटता था। उपेन के शरीर पर चोट के कई निशान मिले हैं।

पटना. पटना पुलिस ने गूगल मैप की सहायता से पिछले 10 दिन से बंधक बनाकर रखे गए उपेन घोष को बरामद कर लिया। मोबाइल टावर लोकेशन और गूगल मैप की सहायता से कोतवाली थाना की पुलिस ने जक्कनपुर थाना क्षेत्र के मारुतिनगर के अरुण कुमार के घर पर छापा मारा और उपेन को सकुशल बरामद कर लिया।

उपेन की बेटी ने एसएसपी को किया था फोन
उपेन की बेटी ने 30 अप्रैल को पटना के एसएसपी को फोन किया था। उसने कहा था कि मेरे पिता को एक व्यक्ति ने बंधक बनाकर रखा है। मामला सामने आने पर पुलिस ने जांच शुरू की और दूसरे दिन ही अपहृत को बरामद कर लिया। पुलिस ने उपेन को अगवा कर अपने घर में रखने वाले अरुण कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। अरुण उपेन को बेरहमी से पीटता था। उसने शरीर पर चोट के कई निशान मिले हैं।

2 लाख रुपए के लेन-देन का था विवाद
पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर के गंगारामपुर थाना क्षेत्र के बेलबारी गांव के उपेन घोष रेडियेशन नाम की कंपनी के लिए काम करते हैं। यह कंपनी पावर प्लांट लगाने से जुड़ी बताई जा रही है। अरुण ने पुलिस को बताया कि वह पावर प्लांट लगाना चाहते थे। इस संबंध में रेडिएशन कंपनी के नवीन कुमार से बातचीत हुई थी। नवीन ने अरुण को उपेन से बात करने को कहा।

सौदा तय होने पर अरुण ने नवीन और उपेन को दो लाख रुपए दिए। इसके बाद नवीन ने अरुण से उपेन के साथ दिल्ली आने को कहा। अरुण उपेन के साथ दिल्ली गई, लेकिन नवीन नहीं मिला। अरुण को लगा कि उससे 2 लाख रुपए की ठगी की गई है। इसके बाद उसने उपेन को बंधक बना लिया।

गूगल मैप की सहायता से पुलिस अरुण के घर पहुंच गई। गूगल मैप की सहायता से पुलिस अरुण के घर पहुंच गई।
पैसे को लेकर हुए विवाद के बाद अरुण ने उपेन को बंधक बना लिया था। पैसे को लेकर हुए विवाद के बाद अरुण ने उपेन को बंधक बना लिया था।
X
अरुण उपेन को पीटता था। उपेन के शरीर पर चोट के कई निशान मिले हैं।अरुण उपेन को पीटता था। उपेन के शरीर पर चोट के कई निशान मिले हैं।
गूगल मैप की सहायता से पुलिस अरुण के घर पहुंच गई।गूगल मैप की सहायता से पुलिस अरुण के घर पहुंच गई।
पैसे को लेकर हुए विवाद के बाद अरुण ने उपेन को बंधक बना लिया था।पैसे को लेकर हुए विवाद के बाद अरुण ने उपेन को बंधक बना लिया था।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..