आज से प्रारंभ होगा पितृपक्ष, पितरों की आत्मा की शांति को करें तर्पण

Patna News - आश्विन के कृष्ण पक्ष में पूर्वजों के पूजन का पर्व पितृ पक्ष इस साल 14 सितंबर से प्रारंभ होगा। पितृ पक्ष में लोग...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:37 AM IST
Drunda News - pitrupaksha will start from today offer peace to the souls of fathers
आश्विन के कृष्ण पक्ष में पूर्वजों के पूजन का पर्व पितृ पक्ष इस साल 14 सितंबर से प्रारंभ होगा। पितृ पक्ष में लोग तर्पण कर पूर्वजों के प्रति श्रद्धा व्यक्त करने के साथ ही पितृ ऋण से मुक्ति की प्रार्थना करते हैं। पूर्वजों का पूजन भी तिथि के अनुसार किया जाता है। इसी दिन तर्पण और श्राद्ध करना चाहिए। कुछ लोग सभी दिवसों में पितृ को जल देने की मान्यता का निर्वहन करते हैं।

दरौंदा प्रखंड के बगौरा गांव निवासी आचार्य जितेंद्र नाथ पांडे ने बताया कि 14 सितंबर को सुबह तक है। लेकिन इस दिन मध्याह्न में प्रतिपदा का श्राद्ध होगा जबकि अगले दिन सुबह 8.43 बजे तक पूर्णिमा है। इस दिन मध्याह्न में तर्पण करेंगे। उन्होंने बताया कि तर्पण और श्राद्ध मध्याह्न में करना चाहिए। इस समय ही पूर्वज आते हैं ऐसी मान्यता शास्त्रों में दी गई है। उन्होंने बताया कि 15 को द्वितीया, 16 को तृतीया, 17 को चतुर्थी, 18 को पंचमी (भरणी) का श्राद्ध व 19 को षष्ठी का श्राद्ध होगा।

उन्होंने बताया कि इसी प्रकार 20 सितंबर को सप्तमी, 21 को अष्टमी का श्राद्ध होगा। 22 सितंबर को नवमी, 23 को दशमी, 24 को एकादशी, 25 को द्वादशी का श्राद्ध होगा। द्वादशी के दिन ही संन्यासी व वैष्णव का श्राद्ध किया जाएगा। उन्होंने बताया कि चतुर्दशी के दिन उनका श्राद्ध होता है जिनकी मृत्यु किसी हादसे में हुई हो या फिर फिर शस्त्र से की गई हो।

उन्होंने बताया कि 28 सितंबर को अमावस्या का श्राद्ध किया जाएगा। पितृ विसर्जन अमावस्या इस दिन होगी।

क्या करना है जरूरी




X
Drunda News - pitrupaksha will start from today offer peace to the souls of fathers
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना