पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Patna News Police Station Suspended After Video Of Liquor Selling Goes Viral Two Constables Also In Custody

शराब बेचने का वीडियो वायरल होने के बाद थानाध्यक्ष निलंबित, दो दारोगा भी हिरासत में

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
क्राइम रिपोर्टर | कुचायकोट (गोपालगंज)

थाना परिसर से शराब की डिलेवरी कराते वीडियो वायरल होने के बाद तुरंत कुचायकोट के थानाप्रभारी रितेश कुमार सिंह को निलंबित कर दिया गया। इसके बाद से ही वो भूमिगत हैं। जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगी हुई हैं। वहीं, पटना से आई मद्य निषेध विभाग की टीम ने कुचायकोट थाने में तैनात दो दारोगा, एक चौकीदार व एक पिकअप चालक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। इधर, थाने में पदस्थापित लोगों का बयान भी दर्ज किया जा रहा हैं। वीडियो की सत्यता की भी जांच की जा रहीं हैं।

एसपी नताशा गुड़िया ने बताया कि स्टॉक का मिलान का कार्य पूरा नहीं हुआ जबतक पूरा नहीं हो पाता है कुछ नहीं कहा जा सकता हैं। एसपी बोलीं-जैसे ही किसी पकी गड़बड़ी मिलती है तो एफआईआर दर्ज कर जेल भेजा जाएगा। स्टॉक मिलान में किसी प्रकार की गड़बड़ी मिलती है तो सभी पर एफआईआर दर्ज होगी। इसके बाद आगे की कार्रवाई होगी। इस मामले में सदर एसडीपीओ नरेश पासवान का कहना था कि पुलिस और मद्य निषेध विभाग की टीम पूरे मामले की गहराई से और सभी पहलुओं पर जांच पड़ताल कर रही है।

एसपी बोलीं-जो भी दोषी होगा, केस दर्ज कर भेजा जाएगा जेल

कुचायकोट में जब्त शराब की जांच करते अधिकारी।

वीडियो वायरल होने के बाद पहुंची जांच टीम

विदित हो कि रविवार को सोशल मीडिया पर शराब की गाड़ी थाने से छोड़ने का वीडियो वायरल हुआ। इस वीडियो क्लिपिंग में कुचायकोट थाना प्रांगण में ज़ब्त शराब को माल खाना के रूप में इस्तेमाल किए जा रहे ट्रक कंटेनर से निकाल कर एक पिकअप में लाद कर बाहर ले जाने का दावा किया गया था। वायरल वीडियो में पुलिस के गाड़ी के एस्कॉर्ट में यह पिकअप थाने से बाहर निकलती हुई दिख रही है। जिसके बाद इसकी जांच शुरू की गई। पहली बार में यह मामला सत्य पाया गया है।

शराब के साथ पकड़े गए थे थानाध्यक्ष

थाने से शराब बेचे जाने और तस्करों से साठ-गांठ रखने का मामला गोपालगंज में कोई नया नहीं है। इसके पहले पचास लाख की शराब बेचते थानाध्यक्ष लक्ष्मी नारायण महतो, एएसआई सुधीर कुमार पकड़े गए थे। जो अभी जेल में हैं।

शराब रोज पकड़ी जा रही,लेकिन जांच नहीं

गोपालगंज की सीमाएं यूपी से कई स्थानों पर मिलती हैं।

बिहार में शराब बेचना और पीना मना है। वहीं यूपी में कोई प्रतिवंध नहीं है। यूपी से हर दिन बड़ी मात्रा में शराब आती है। कुछ पकड़ी जाती है तो कुछ का सौदा पहले से तैयार रहता है।

खबरें और भी हैं...