• Hindi News
  • Bihar
  • Patna
  • Rajendra Babu opened an account with Punjab National Bank in Patna, still has 323 rupees left

जयंती / पटना के पीएनबी में प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने खुलवाया था खाता, अभी भी जमा हैं 323 रुपए

राजेंद्र प्रसाद का खाता का ब्यौरा उनकी तस्वीर के साथ सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए लगाया गया है। राजेंद्र प्रसाद का खाता का ब्यौरा उनकी तस्वीर के साथ सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए लगाया गया है।
खाता खुलवाने के कुछ महीने बाद डॉ. राजेंद्र प्रसाद का निधन हो गया था । खाता खुलवाने के कुछ महीने बाद डॉ. राजेंद्र प्रसाद का निधन हो गया था ।
पटना स्थित पंजाब नेशनल बैंक की शाखा, जहां प्रथम राष्ट्रपति ने खाता खुलवाया था। पटना स्थित पंजाब नेशनल बैंक की शाखा, जहां प्रथम राष्ट्रपति ने खाता खुलवाया था।
X
राजेंद्र प्रसाद का खाता का ब्यौरा उनकी तस्वीर के साथ सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए लगाया गया है।राजेंद्र प्रसाद का खाता का ब्यौरा उनकी तस्वीर के साथ सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए लगाया गया है।
खाता खुलवाने के कुछ महीने बाद डॉ. राजेंद्र प्रसाद का निधन हो गया था ।खाता खुलवाने के कुछ महीने बाद डॉ. राजेंद्र प्रसाद का निधन हो गया था ।
पटना स्थित पंजाब नेशनल बैंक की शाखा, जहां प्रथम राष्ट्रपति ने खाता खुलवाया था।पटना स्थित पंजाब नेशनल बैंक की शाखा, जहां प्रथम राष्ट्रपति ने खाता खुलवाया था।

  • बैंक ने राजेंद्र बाबू की तस्वीर के साथ उनके खाते का ब्यौरा प्रदर्शनी में लगाया
  • मैनेजर ने बताया कि खाते में हर साल जोड़ी जाती है ब्याज की राशि
  • मंगलवार को देश के प्रथम राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद की 135वीं जयंती है

Dainik Bhaskar

Dec 03, 2019, 05:51 PM IST

पटना. देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद के निधन को 50 साल से ज्यादा गुजर चुके हैं, लेकिन पटना के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में उनका खाता चल रहा है। अकाउंट में अभी भी 323 रुपए जमा हैं। बैंक में जमा यह रकम उनके मूल धन का ब्याज है। मूल धन रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) में जमा करा दिया गया है, जो करीब 7 हजार रुपए था। मंगलवार को डॉ. राजेंद्र प्रसाद की 135वीं जयंती है।

राजेंद्र प्रसाद ने पटना में एग्जीबिशन रोड चौराहा के पास स्थित पीएनबी की शाखा में 24 अक्टूबर, 1962 को खाता खुलवाया था। 4 महीने बाद उनका निधन हो गया। निधन के बाद कोई उस खाते से पैसा निकालने नहीं पहुंचा। बैंक के मुख्य प्रबंधक रंजन प्रकाश ने बताया कि भारत के पहले राष्ट्रपति का खाता होने हमारे लिए गर्व की बात है। बैंक ने उनके बचत खाते को प्रथम ग्राहक का दर्जा दिया है।

बैंक के मुख्यालय स्थित म्यूजियम में रखवाई स्मृतियां

रंजन प्रकाश ने कहा- पिछले साल (2018) राजेंद्र प्रसाद से जुड़ी सभी स्मृतियां दिल्ली में पंजाब नेशनल बैंक के मुख्यालय स्थित द्वारिका म्यूजियम में रखवा दी गईं। वहां लोग इसे देखने आते हैं। चूंकि उनके अकाउंट से कई सालों से कोई ट्रांजेक्शन नहीं हुआ था, ऐसे में अकाउंट को डिफ घोषित कर दिया गया।

बैंक ने मूल धन आरबीआई में जमा कराया

रंजन प्रकाश ने बताया कि उनके खाते में जमा मूल धन (करीब 7 हजार रु.) को आरबीआई में जमा करा दिया गया। हर साल अकाउंट में ब्याज जोड़ दिया जाता है। बैंक में राजेंद्र प्रसाद का खाता संख्या - 0380000100030687 उनकी तस्वीर के साथ सार्वजनिक प्रदर्शन के लिए लगा दिया गया है। खाता संख्या उनकी तस्वीर के नीचे दर्ज है।

DBApp
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना