मॉनसून सत्र / हर जिले में बालू की दरें, दूरी के हिसाब से तय है: उपमुख्यमंत्री



सुशील मोदी, उप मुख्यमंत्री, बिहार सुशील मोदी, उप मुख्यमंत्री, बिहार
X
सुशील मोदी, उप मुख्यमंत्री, बिहारसुशील मोदी, उप मुख्यमंत्री, बिहार

  • बालू से संबंधित शिकायते के लिए बना है कंट्रोल रूम

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 07:29 PM IST

पटना. बिहार विधान परिषद में बालू के दाम को लेकर खनन मंत्री की जमकर घेराबंदी हुई। राजद विधान पार्षद सुबोध कुमार ने विधान परिषद में तारांकित प्रश्न के माध्यम से राज्य में बालू की समस्या पर सवाल उठाया। सदस्यों ने मंत्री से पूछा कि बिहार में भी बालू की क्या दरें हर जिले में बालू की दरें दूरी की हिसाब से तय है। प्रश्नों की बौछार से मंत्री को घिरते देख उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने मोर्चा संभाला और कहा हर जिले में बालू की दरें दूरी की हिसाब से तय है। मंत्री जी ने भी जो रेट बताया है वो लगभग में बताया है, इसलिए इस रेट में थोड़ा इधर-उधर हो सकता है। बालू से संबंधित शिकायतों को हल करने के लिए कंट्रोल रूम बनाया गया है। किसी को कोई परेशानी हो तो इस पर शिकायत कर सकते हैं। 

 

इससे पहले सदस्यों को जबाव देते हुए खान एवं भूतत्व मंत्री ब्रजकिशोर बिंद ने सदन में बताया कि हर जिले में बालू का अलग-अलग रेट निर्धारित है। यथा अररिया में 5300-5500 सीएफटी बालू, बेगूसराय में 3500-4000 रुपया, अरबल में 1800 से 2000 रुपया, औरंगाबाद में 2200- 2400 रुपया, बांका में 2200 से 2400 रुपया और वैशाली में 4000 रू सीएफटी है। सदस्य सुबोध राय ने चैलेंज देते हुए कहा कि यह जवाब पूरी तरह से गलत है। सरकार के आंकड़ों में वैशाली में 4000 रू बालू की दर है, जबकि हकीकत में 5500 रू बिक रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि मंत्री जी गलत जवाब दे रहे।इनको अधिकारियों ने बरगला दिया है। 

 

मंत्री ने कहा कि ऐसा नहीं है, राज्य में लगभग सभी बालूघाट जिलों में बंदोबस्ती कर दिया गया है। बालूघाटों के चालू रहने एवं स्टॉकिस्टों के पास पर्याप्त बालू रहने से बाजार में बालू की कमी नहीं है। विभाग द्वारा प्रतिदिन बालू के बाजार मूल्य का सर्वेक्षण कराया जाता है। जिला खनन पदाधिकारियों सरकार ने निर्देश दिया है कि बालू की कीमतों में बढ़ोती नहीं हो, निर्धारित मूल्य पर भी लोगों को बालू की आपूर्ति हो। सदस्यों ने बालू के अभाव में सरकार परियोजना और योजना में देरी होने का मामल भी उठाया। सदस्यों को शांत करने के लिए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि रेट को लेकर जो बातें आ रही है उसकी सरकार जांच करवाएगी और जांच के बारे में सदन को भी जानकारी दी जाएगी। बालू के कालाबाजारी में अगर अधिकारी या कारोबार संल्पित पाए गए ने उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना