तनावमुक्त जीवनशैली में मददगार है नियमित व्यायाम: डॉ. अशेष

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 09:31 AM IST

Patna News - तेजी से बदलते जीवनशैली से हाइपरटेंशन से ग्रसित होने वाले लोगों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। हाइपरटेंशन यानि उच्च...

Siwan News - regular exercise is helpful in stress free lifestyle dr alhas
तेजी से बदलते जीवनशैली से हाइपरटेंशन से ग्रसित होने वाले लोगों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। हाइपरटेंशन यानि उच्च रक्तचाप से बचाव के लिए प्रत्येक वर्ष 17 मई को विश्व हाइपरटेंशन दिवस मनाया जाता है। हाइपरटेंशन को सामन्य भाषा में उच्च रक्तचाप भी कहा जाता है। यह दो प्रकार का होता है। पहला एस्सेनशिअल हाइपरटेंशन जो मूलतः अनुवांशिक, अधिक उम्र होने पर, अत्यधिक नमक का सेवन तथा लचर एवं लापरवाह जीवनशैली के कारण होता है। दूसरा सेकेंडरी हाइपरटेंशन जो उच्च रक्तचाप का सीधा कारण चिन्हित हो जाएं उस स्तिथि को सेकेंडरी हाइपरटेंशन कहते हैं। यह गुर्दा रोग के मरीजों तथा गर्भ निरोधक गोलियों का सेवन करने वाली महिलाओं में अधिक देखा जाता है।जिले के सिविल सर्जन. डॉ अशेष ने बताया कि ख़राब जीवनशैली के कारण धीरे-धीरे किशोर एवं युवक भी इस गंभीर समस्या से पीड़ित हो रहे हैं। इसलिए बिगडती जीवनशैली को ठीक करना बहुत जरुरी है। आहार में फ़ास्ट फ़ूड की जगह फलों का सेवन, सुबह जल्दी उठना एवं रात में जल्दी सोना, अवसाद एवं तनाव से बचना एवं नियमित व्यायाम से इस रोग से बचा जा सकता है। अधिकतर हाइपरटेंशन के रोगियों को मालूम भी नहीं रहता कि वह इससे ग्रसित हैं तथा इसके लक्षणों को नजरंदाज करते हैं। इसे अनदेखा करने वाले मरीजों को गंभीर बीमारियों जैसे हृदयघात, मस्तिष्कघात, लकवा, ह्रदय रोग,किडनी का काम करना बंद हो जाना जैसी स्थिति का सामना करना पड़ता है।

हाइपरटेंशन के यह है कारण:

तनावग्रस्त जीवनशैली हाइपरटेंशन के प्रमुख कारणों में से एक है। इसके अलावा धूम्रपान करना, मोटापा, अत्यधिक शराब का सेवन, अच्छी नींद का नहीं लेना, चिंता, अवसाद, भोजन में नमक का अधिक प्रयोग, गंभीर गुर्दा रोग, परिवार में उच्च रक्तचाप का इतिहास एवं थाईराइड की समस्या हाइपरटेंशन का कारण हो सकता है।

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण 4 के अनुसार जिले में 0.7 प्रतिशत पुरुष गंभीर हाइपरटेंशन से ग्रसित हैं तथा 0.6 प्रतिशत पुरुष सामान्य हाइपरटेंशन से पीड़ित हैं। महिलाओं में यह प्रतिशत अधिक है। जिले की 0.4 फीसदी महिलाएं गंभीर हाइपरटेंशन से एवं 1.6 प्रतिशत महिलाएं सामान्य हाइपरटेंशन से पीड़ित हैं।

सिविल सर्जन. डॉ अशेष ने बताया कि नियमपूर्वक व्यायाम करना, चिकित्सक द्वारा बताई गयी दवाओं का नियमित सेवन तथा तनाव घटाने हेतु योग क्रिया हाइपरटेंशन को दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं।

यह लक्षण दिखाई दे तो हो जाएं सावधान :








X
Siwan News - regular exercise is helpful in stress free lifestyle dr alhas
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543