31 मार्च तक पूरी हाेगी किऊल लखीसराय यार्ड की रिमाॅडलिंग

Patna News - किऊल-लखीसराय यार्ड रिमॉडलिंग का काम 31 मार्च तक पूरा हाेगा। 24 घंटे काम चल रहा है अाैर इसकी ड्राेन से निगरानी हाे रही...

Jan 16, 2020, 08:50 AM IST
Patna News - remodeling of kaul lakhisarai yard will be completed by 31 march
किऊल-लखीसराय यार्ड रिमॉडलिंग का काम 31 मार्च तक पूरा हाेगा। 24 घंटे काम चल रहा है अाैर इसकी ड्राेन से निगरानी हाे रही है। इसके अलावा किऊल में पुराने यांत्रिक लीवर फ्रेम के स्थान पर अत्याधुनिक रूट रिले इंटरलॉकिंग के जरिए सिगनलिंग सिस्टम के उन्नयन का काम भी चल रहा है। नए स्थापित होने वाले सेंट्रल पैनल आरआरआई केबिन के माध्यम से किऊल और लखीसराय दोनों स्टेशनों पर ट्रेनों के आवागमन को नियंत्रित किया जाएगा।

किऊल नदी पर वर्तमान रेल पुल लगभग 100 वर्ष पुराना है। नवनिर्मित दोहरी लाइन वाले पुल से जल्द ही रेल परिचालन प्रारंभ हाेगा। सीपीअारअाे राजेश कुमार ने बताया कि 31 मार्च तक इस परियाेजना काे पूरा कर रेल परिचालन प्रारंभ करने की योजना है।

काम तेजी पर
ट्रेनाें का समय पालन सुधरेगा

किउल-गया दोहरीकरण, यार्ड रिमॉडलिंग व नए पुल के निर्माण कार्य पूरा हो जाने के बाद किउल में प्‍लेटफॉर्मों की संख्‍या 5 से बढ़कर 8 हो जाएगी। किऊल-लखीसराय स्टेशन हावड़ा और दिल्ली को जोड़ने वाली मेन लाइन पर स्थित महत्वपूर्ण स्टेशन है। पूर्वी छोर पर किऊल, पश्चिमी छोर पर लखीसराय अाैर बीच में बहती किऊल नदी के साथ भारतीय रेल में यह अपनी तरह का अकेला जुड़वा स्टेशन है, जहां से पूर्व की ओर झाझा और भागलपुर के लिए तथा पश्चिम की ओर गया, पटना और बरौनी के लिए ट्रेनों का परिचालन किया जाता है। किऊल में यार्ड रीमाॅडलिंग के साथ अारअारअार्इ कार्य पूरा होने पर हावड़ा-दिल्ली मेन लाइन पर रेल परिचालन में और सुगमता आएगी अाैर ट्रेनों के समय-पालन में काफी सुधार अाएगा।

पूर्व मध्य रेल की दिसंबर तक हुई 14.705 कराेड़ की प्रारंभिक अाय

पटना|पूर्व मध्य रेल कोे चालू वित्त वर्ष 2019-20 के दिसंबर माह तक माल ढुलाई समेत सभी स्रोतों से प्राप्त होने वाले आय में उल्लेखनीय वृद्धि के साथ कुल 14704.65 करोड़ रुपए की प्रारंभिक आय हुई है। यह पिछले वर्ष के दिसंबर माह तक प्राप्त प्रारंभिक आय 13242.16 करोड़ रुपए की तुलना में 11 प्रतिशत अधिक है। वित्तीय वर्ष 2019-20 के दिसंबर माह तक पूर्व मध्य रेल द्वारा 109.98 मिलियन टन का माल लदान किया गया, जो पिछले वित्तीय वर्ष के इसी अवधि में किए गए माल लदान 99.63 मिलियन टन की तुलना में 10.39 प्रतिशत अधिक है। इसी तरह वित्तीय वर्ष 2019-20 के दिसंबर माह तक पूर्व मध्य रेल क्षेत्राधिकार से लगभग 188 मिलियन यात्रियों ने यात्रा की जिससे कुल 2170.86 करोड़ रुपए की आय प्राप्त हुई, जो पिछले वित्तीय वर्ष के दिसंबर माह तक यात्री यातायात से प्राप्त आय 2087.58 करोड़ रुपए की तुलना में 4.0 प्रतिशत अधिक है।

X
Patna News - remodeling of kaul lakhisarai yard will be completed by 31 march
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना