--Advertisement--

नेपाल समेत तराई क्षेत्र में झमाझम मानसूनी बारिश से उफनाने लगी उत्तर बिहार से गुजरने वाली नदियां

नेपाल समेत तराई क्षेत्र में सोमवार को पहली बार झमाझम मानसूनी बारिश होने से जिले से गुजरने वाली नदियां उफनाने लगी है।

Danik Bhaskar | Jul 03, 2018, 03:08 PM IST

मुजफ्फरपुर. नेपाल समेत तराई क्षेत्र में सोमवार को पहली बार झमाझम मानसूनी बारिश होने से जिले से गुजरने वाली नदियां उफनाने लगी है। खासकर नेपाल से निकलने वाली बागमती, गंडक, कोसी, लखनदेई समेत अन्य पहाड़ी नदियों में जहां तेजी से बढ़ोत्तरी शुरू हो गई है। वहीं, बूढ़ी गंडक का जलस्तर स्थित है।


गंडक नदी के जलग्रहण क्षेत्र भैरवा में रिकार्ड 166 मिली मीटर बारिश होने से सोमवार को वाल्मीकिनगर बराज से गंडक नदी में बढ़ते क्रम में रिकार्ड 1.19 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इसके कारण मंगलवार से गंडक के साथ ही बागमती व बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में और बढ़ोत्तरी होने की संभावना है। लगातार दूसरे दिन सोमवार को भी नेपाल तथा उससे सटे उत्तर बिहार के जिलों में अच्छी बारिश से उत्तर बिहार से गुजरने वाली नदियों के जलस्तर में तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है।

हालांकि, अभी तमाम नदियां खतरे के निशान से नीचे बह रही हैं। बावजूद, बारिश जारी रहने की संभावना को देखते हुए जल संसाधन विभाग ने अभियंताओं को अलर्ट जारी करते हुए तटबंधों पर विशेष चौकसी बरतने का आदेश दिया है। लगातार बारिश होने से जिले के औराई, कटरा व गायघाट प्रखंड में बागमती के दोनों तटबंधों के बीच बसे तीन दर्जन गांवों में दहशत का आलम है। इस बारिश से ही बागमती व बूढ़ी गंडक के तटबंधों पर जगह-जगह रेन कट की मरम्मत शुरू हो गई है।