प्रतिक्रिया / पूर्व वित्तमंत्री ने कहा- बिहार को बजट में नहीं मिला कुछ खास, पिछड़े राज्य के लिए करनी चाहिए थी खास व्यवस्था

राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी (फाइल फोटो)। राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी (फाइल फोटो)।
X
राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी (फाइल फोटो)।राजद नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी (फाइल फोटो)।

  • पूर्व वित्त मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी ने बजट को निराशाजनक बताया
  • कहा- बिहार को आगे लाने के लिए स्पेशल पैकेज की जरूरत

दैनिक भास्कर

Feb 01, 2020, 04:05 PM IST

पटना. राजद नेता और बिहार के पूर्व वित्त मंत्री अब्दुल बारी सिद्दीकी ने बजट को निराशाजनक बताया है। उन्होंने कहा कि बजट में बिहार को कुछ खास न मिला। सिद्दीकी ने कहा कि बिहार पिछड़ा राज्य है। बिहार को आगे लाने के लिए स्पेशल पैकेज और विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने की जरूरत है।

उन्होंने कहा- इसके अभाव में बिहार आज जहां है वहां से थोड़ा आगे बढ़ेगा, लेकिन जो राज्य आगे हैं वे और आगे बढ़ जाएंगे। बिहार को विकसित राज्यों की कतार में लाने के लिए विशेष सुविधा की जरूरत है और वह होना चाहिए।

बजट ने बिहार को मायूस किया, रोजगार की बात नहीं: उपेंद्र
रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि केंद्रीय आम बजट ने बिहार के लोगों को मायूस किया है। बजट युवा और जनविरोधी है। रोजगार की इससे कोई पुख्ता प्रावधान नहीं किया गया। सरकारी संस्थानाओं और सेक्टर को निजी हाथों में देने की तैयारी है। 

बिहार को न विशेष राज्य का दर्जा मिला न ही विशेष पैकेज। बिहार में डबल इंजन की सरकार विकास की पटरी पर दौड़ने के बजाय डिरेल हो गई। केंद्र सरकार ने बिहार के साथ सौतेला व्यवहार किया। बजट में स्वास्थ्य, शिक्षा और रोजगार की पूरी तरह अनदेखी की गई। छोटे किसानों को बजट में कोई रियायत नहीं मिली।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना