बिहार / जब अमिताभ सर को देखा तो नर्वस हो गया था, उन्होंने ही सहज होने में मदद की: सनोज राज



Sanoj Raj of Jehanabad, who won 1 crore rupees in KBC, shared experiences with Bhaskar
X
Sanoj Raj of Jehanabad, who won 1 crore rupees in KBC, shared experiences with Bhaskar

  • केबीसी में 1 करोड़ रुपए जीतने वाले जहानाबाद के सनोज राज ने भास्कर से साझा किए अनुभव
  • उन्होंने बताया-सिविल सर्विस की तैयारी करना आया काम, बनना चाहते हैं आईएएस

Dainik Bhaskar

Sep 14, 2019, 04:46 AM IST

पटना (प्रीति सिंह). जहानाबाद के सनोज राज कौन बनेगा करोड़पति में 1 करोड़ रुपए जीत कर देश भर में रातों-रात स्टार बन गए हैं। वह ढ़ाेंघरा गांव के रहने वाले हैं। पिता किसान हैं। सनोज संयुक्त परिवार में रहते हैं। बारहवीं तक की पढ़ाई जहानाबाद से की है। इंजीनियरिंग वर्द्धमान यूनिवर्सिटी, पश्चिम बंगाल से की।

 

नवम्बर 2015 में उन्होंने टाटा कंसल्टेंसी ज्वॉइन की। असिस्टेंट कमांडेंट की तैयारी के लिए 2018 में नौकरी से रिजाइन कर दिया। दिल्ली में रह कर वह यूपीएससी की तैयारी करने लगे। कुछ ही दिनों पहले सनोज का सेलेक्शन असिस्टेंट कमाडेंट के पद पर हुआ। सेलेक्शन के दो-तीन दिन बाद ही उन्हें केबीसी से फोन भी आ गया। भास्कर से उन्होंने बातचीत की।

 

देखने के साथ खेलता भी था
सनोज शुरू से ही कौन बनेगा करोड़पति देखते थे। साथ-साथ खेलते भी जाते थे। इससे उनका कॉन्फिडेंस बढ़ा। उन्हें लगा कि वह भी इसे जीत सकते हैं।


आठ साल बाद मिली सफलता
सनोज 7-8 साल से इसमें पार्टिसिपेट करने के लिए ट्राई कर रहे थे। आखिरकार उनकी कोशिश रंग लाई और अगस्त में उन्हें केबीसी से बुलावा आया। सनोज उस वक्त दिल्ली में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे थे। पहले तो लगा दोस्त मजाक कर रहे हैं। लेकिन जब सामने वाले ने डिटेल बताया तो भरोसा हुआ।


अमिताभ को देख हो गए नर्वस
23 अगस्त को सनोज मुंबई पहुंचे। 28 अगस्त तक शूटिंग चलती रही। सामने पहली बार जब अमिताभ बच्चन को देखा तो हाथ-पांव फूल गए। सनोज बुरी तरह नर्वस हो गए। उस दिन को याद करते हुए वह कहते हैं अमिताभ सर ने इसे नोटिस किया और मुझे सहज होने में मदद की। बड़े ही प्यार और अपनत्व से वो मुझसे मिले।


एक घंटे में बन गया करोड़पति
सनोज कहते हैं एक करोड़ जीतने पर विश्वास ही नहीं हुआ। एक घंटे पहले मेरे पास कुछ भी नहीं था। एक घंटे के अंदर मैं करोड़पति बन गया था। ये किसी चमत्कार से कम नहीं लग रहा था। अमिताभ ने जब कहा कि आप एक करोड़ जीत चुके हैं उस पल को मैं कभी भी नहीं भूल सकता। इसने मेरी पूरी जिंदगी बदल दी।


पीसीएस की तैयारी आई काम
सिविल सर्विस की तैयारी करना सनोज के काम आया। वह कहते हैं सिविल सर्विस की तैयारी करने की वजह से मेरा जीके मजबूत हो गया था। इसीलिए मुझे अलग से कोई और तैयारी नहीं करनी पड़ी।


आईएएस बनना है सपना
सनोज आईएएस बनना चाहते हैं। इसके लिए तैयारी भी कर रहे हैं। वो कविताएं भी लिखते हैं। भोजपुरी और मैथिली के लोकगीत सुनते हैं। घूमना उन्हें बेहद पसंद है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना