• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Sharjeel Imam | IIT JNU Graduate Sharjeel Imam Arrested By Delhi Police In Bihar Over Charges Of Sedition

‘असम को भारत से काट दें’ बयान देने वाला जेएनयू छात्र शर्जील गिरफ्तार, वीडियो वायरल होने पर दर्ज हुआ था केस

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
25 जनवरी को पटना में शर्जील की आखिरी लोकेशन मिली थी।
  • शर्जील ने 16 जनवरी को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में भड़काऊ भाषण दिया, 17 को वीडियो वायरल हो गया
  • 25 जनवरी को केस दर्ज हुआ, मंगलवार को शर्जील के भाई ने कड़ी पूछताछ में जहानाबाद के काको में छिपे होने की जानकारी दी
  • नीतीश बोले- "इस धरती पर किसी में इतना दम नहीं कि भारत को बांट सके, दिल्ली पुलिस अपना काम कर रही है"

जहानाबाद. अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में आपत्तिजनक भाषण देने वाले आरोपी शर्जील इमाम को पुलिस ने जहानाबाद से गिरफ्तार कर लिया है। मंगलवार सुबह पुलिस ने शर्जील के भाई मुजम्मिल और उसके एक सहयोगी को जहानाबाद से हिरासत में लिया। कड़ी पूछताछ में उसने बताया कि वह जहानाबाद के काको इलाके में है। इसके बाद पुलिस ने काको में छापेमारी करते हुए शर्जील को गिरफ्तार कर लिया। बिहार पुलिस शर्जील को जहानाबाद कोर्ट में पेश करेगी। दिल्ली पुलिस ट्रांजिट रिमांड के लिए आवेदन देगी।


25 जनवरी को शर्जील पर अलीगढ़ में एफआईआर दर्ज की गई थी। असम में भी देशद्रोह का केस दर्ज हुआ था।

बेटा निर्दोष, शाहीन बाग के संघर्ष को कमजोर करने के लिए निशाना बना रहे: मां
शर्जील की मां अफशां रहीम ने बेटे को निर्दोष बताते हुए कहा, ‘‘हम कानून के रखवाले और सम्मानित परिवार से हैं। परिवार ने पीढ़ियों से देश की सेवा की है। पति जदयू के कर्मठ सिपाही थे। पिता 23 साल तक सरपंच रहे। शर्जील कभी भी देश के विभाजन की बात नहीं कर सकता। विरोधियों ने षड्यंत्र के तहत वीडियो से छेड़छाड़ कर झूठे आरोप लगाए हैं। जांच में सभी आरोपी गलत साबित होंगे। सीएए और एनआरसी के विरोध में शाहीन बाग में जारी संघर्ष को कमजोर करने के लिए शर्जील को निशाना बनाया गया।’’

आईआईटी से ग्रेजुएट है शर्जील, विदेश में भी की है नौकरी आईआईटी मुंबई से कम्प्यूटर साइंस में ग्रेजुएट शर्जील जेएनयू में सेंटर फॉर हिस्टॉरिकल स्टडीज में रिसर्च कर रहा है। उसका शैक्षणिक बैकग्राउंड काफी बेहतर रहा है। वह डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगेन में स्थित आईटी यूनिवर्सिटी में प्रोग्रामर की नौकरी कर चुका है। इसके अलावा जुनिपर नेटवर्क कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर भी रहा है।

नीतीश बोले- कोर्ट फैसला करेगा
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शर्जील की गिरफ्तारी पर कहा, ‘‘नीतीश ने कहा कि जो कोई गलत काम करेगा उसके खिलाफ कानून अपना काम करेगा। लोगों को अपनी राय रखने की आजादी है, लेकिन किसी को भी देशहित या कानून के दायरे से बाहर जाकर बयानबाजी की छूट नहीं दी जा सकती। दिल्ली पुलिस अपना काम रही है। लोग यह जान लें कि इस धरती पर किसी में इतना दम नहीं है कि वह भारत को बांट सके।’’ शर्जील के पिता अरशद इमाम जदयू के कद्दावर नेता रहे हैं। 2005 के बिहार विधानसभा चुनाव में अरशद जहानाबाद से जदयू के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। 

वीडियो में शर्जील कह रहा- ‘सेना के लिए असम का रास्ता रोकें’
शर्जील ने 16 जनवरी को एएमयू में सभा की। इस दौरान कहा था- ‘‘क्या आप जानते हैं कि असमिया मुसलमानों के साथ क्या हो रहा है? एनआरसी पहले से ही वहां लागू है, उन्हें हिरासत में रखा गया है। आगे चलकर हमें यह भी पता चल सकता है कि 6- 8 महीने में सभी बंगालियों को मार दिया गया। हिंदू हों या मुस्लिम। अगर हम असम की मदद करना चाहते हैं, तो हमें भारतीय सेना और अन्य आपूर्ति के लिए असम का रास्ता रोकना होगा।’’


‘‘चिकन नेक मुसलमानों का है। अगर हम सभी एक साथ आते हैं, तो हम भारत से पूर्वोत्तर को अलग कर सकते हैं। यदि हम इसे स्थायी रूप से नहीं कर सकते, तो कम से कम 1-2 महीने के लिए हम ऐसा कर सकते हैं। यह हमारी जिम्मेदारी है कि भारत से असम को काट दें। जब ऐसा होगा, उसके बाद ही सरकार हमारी बात सुनेगी।’’ चिकन नेक 22 किमी का हाईवे है, जो पूर्वोत्तर राज्यों को देश के अन्य हिस्सों से जोड़ता है।

खबरें और भी हैं...