• Home
  • Bihar
  • Patna
  • Patna - तेजस्वी ने पूछा- सवर्णों के गरीब होने का आधार क्या
--Advertisement--

तेजस्वी ने पूछा- सवर्णों के गरीब होने का आधार क्या

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि भाजपा एक तीर से दो शिकार कर रही है। एक तरफ भारत बंद करवा एससी-एसटी के लोगों के...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 04:47 AM IST
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि भाजपा एक तीर से दो शिकार कर रही है। एक तरफ भारत बंद करवा एससी-एसटी के लोगों के मन में भय पैदा कर रही है तो दूसरी ओर कानून बनाकर अपनी पीठ खुद थपथपा रही है। वह पिछड़ा वर्ग की एकता को तोड़ना चाहती है। कहा- एससी-एसटी लोगों के साथ विश्वासघात किया गया है। तमिलनाडु की तरह केंद्र सरकार शिड्यूल 9 में एससी-एसटी आरक्षण शामिल करे, ताकि इस व्यवस्था से कोई छेड़छाड़ न कर सके।

सवर्णों के आरक्षण से जुड़े सवाल पर कहा कि उनके गरीब होने का आधार क्या है? कौन सी जाति कहां खड़ी है, यह जानने के लिए पहले जातीय जनगणना की रिपोर्ट सार्वजनिक करे। केंद्र सरकार के कोर्ट में सही तरीके से पक्ष नहीं रख पाने के कारण ही अभी 85% आबादी के लिए 49.5% आरक्षण तो 15% आबादी के लिए 50.5% आरक्षण मान्य है। भाजपा-आरएसएस का असली चेहरा राजद उजागर करेगा और राज्य के पिछड़े-दलित भाजपा को करारा जवाब देंगे। एक प्रश्न के जवाब में कहा कि लोजपा नेता रामविलास पासवान और चिराग पासवान सामान्य सीट से चुनाव लड़कर उदाहरण पेश करें।

बैठक में राजद के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. रामचंद्र पूर्वे, रघुवंश प्रसाद सिंह, जगदानंद, तेजस्वी यादव, पूर्व सीएम राबड़ी देवी, सांसद मीसा भारती व शिवानंद तिवारी।

पूर्वे से कहा- दो दिनों में कमेटियों का करें गठन

राजद के संगठन विस्तार और संघर्ष की रणनीति को लेकर बुलाई गई बैठक में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डाॅ. रघुवंश प्रसाद सिंह ने प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. रामचंद्र पूर्वे और उनके सहयोगियों की कार्यशैली पर सवाल उठाया। कहा- आठ महीने से कमेटी गठन का काम अटका है। पूर्वे जी ने न तो प्रदेश कमेटी बनाई और न ही जिलावार संघर्ष कमेटी बनवा पाए। आखिर बूथ लेवल एजेंट कैसे और कब बनाए जाएंगे। वरीय नेता मंगनीलाल मंडल और अली अशरफ फातमी ने भी इसे लेकर आपत्ति जताई। इस पर तेजस्वी ने पूर्वे को दो दिनों में हर स्तर की कमेटी के गठन का निर्देश दिया। कहा- 20 सितंबर तक सभी बीएलए का चयन किया जाए। बैठक को पूर्व सीएम राबड़ी देवी, जगदानंद, शिवानंद तिवारी, आलोक मेहता, तनवीर हसन ने भी संबोधित किया। मौके पर मीसा भारती, कमर आलम व मनोज झा भी मौजूद थे।